News

गौरक्षकों पर बयान का मामलाः पीएम पर बिफरी हिंदू महासभा, जमकर साधा निशाना

Created at - August 7, 2016, 12:17 pm
Modified at - August 7, 2016, 12:17 pm

नई दिल्ली। ऊना में दलितों की पिटाई और राजस्थान की गौशाला में सैकड़ों गायों की मौत के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी चुप्पी तोड़ी। उन्होंने गाय की रक्षा के नाम पर दूकान चलाने वालों पर जमकर निशाना साधा। वे टाउनटॉल मीटिंग में 'गाय के नाम पर हो रही सियासत' पर बोल रहे थे।

हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस टिप्पणी के बाद हिंदू महासभा ने अपनी तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है। अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय महासचिव ने इस कहा है कि अगर गौ रक्षा में कुछ घटनाएं हो जाती हैं तो मारपीट करने वालों को जेल भी जाना पड़ता है लेकिन 70-80 फीसदी लोगों को अपराधी कहना बिल्कुल गलत है। उन्होंने  साथ ही उन्होंने कहा कि 2014 के चुनाव में मोदी ने गौ हत्या रोकने का वादा किया था। लेकिन गौ हत्या के मामले बढ़ गए हैं।

पीएम मोदी ने क्या कहा था?

पीएम मोदी ने कहा कि वे गाय रक्षकों के नाम पर वे दूकान चलाते हैं। उन्होंने कहा था कि गायों का वध किये जाने से ज्यादा संख्या में प्लास्टिक खाने से उनकी मृत्यु होती है। गायों को प्लास्टिक खाने से रोकना ही बड़ी सेवा होगी। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग दिन में गौरक्षा का चोला पहनकर घूमते हैं और रात में असामाजिक गतिविधियों में लिप्त रहते हैं।


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News