News

सिंधु जल समझौते पर पीएम ने ली बैठक, कहा- 'खून और पानी साथ नहीं बह सकते'

Last Modified - September 26, 2016, 9:40 pm

नई दिल्‍ली। पाकिस्तान के साथ सिंधु जल समझौते पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैठक ली। इस दौरान उन्होंने कहा कि ख़ून और पानी दोनों एक साथ नहीं बह सकते हैं।

इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, विदेश सचिव ए जयशंकर, दो प्रिंसिपल सेक्रेटरी, जल संसाधन सचिव की भी मौजूदगी रही। यह समीक्षा बैठक 18 भारतीय सैनिकों की जान लेने वाले उरी आतंकी हमले का पाकिस्तान को माकूल जवाब देने को लेकर बुलाई गई। बता दें कि इस हमले के बाद से सिंधु नदी के पानी के बंटवारे से जुड़े इस समझौते को तोड़ने का दबाव बन रहा है।

सिंधु जल समक्षौते पर सितंबर 1960 में भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति अयूब खान ने हस्ताक्षर किए थे। जिसके तहत व्यास, रावी, सतलज, सिंधु, चिनाब और क्षेलम के पानी को दोनों देशों के बीच बांटा गया था।

Trending News

Related News