News

कालाधन उजागर करने के लिए सरकार ने दिया 3 महीने का मौका

Last Modified - December 17, 2016, 5:27 pm

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने अपने काले धन को उजागर करने का एक और मौका देते हुए। कालेधन की फिफ्टी-फिफ्टी योजना लांच की है। जिसके मुताबिक अब प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 31 मार्च, 2017 तक कोई भी अपने गैरकानूनी धन की घोषणा कर सकता है। इस घोषणा और रकम सरेंडर करने के साथ सही वो 50 फीसदी कर के रूप में देकर बाकी रूपयों को जायज बना सकता है।

सरकार ने सख्त रवैया अपनाते हुए ये भी कहा है कि देश के सभी बैंकों में जमा की गई सारी रकम उनकी निगरानी में हैं। सरकार ने आम लोगों से भी अपील की है कि वे काले धन से जुड़ी कोई भी सूचना सरकार को ई-मेल के ज़रिये भेज सकते हैं। यानी आप भी किसी के पास किसी भी तरह के कालेधन की सूचना ईमेल blackmoneyinfo@incometax.gov.in पर दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर को 500 और 1,000 रुपए के नोट बंद कर देने का एलान किया था। उन्होंने अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में एक बार जुर्माना देकर काले धन के बोझ से मुक्त हो जाने की सलाह दी। राजस्व सचिव हंसमुख अधिया के मुताबिक नई योजना के तहत बेहिसाबी नकदी की घोषणा कल (शनिवार, 17 दिसंबर) से 31 मार्च तक की जा सकती है।" उन्होंने यह भी कहा कि यह योजना 'माफी नहीं' है, बल्कि 'काले धन की व्यवस्था से बाहर निकलने' का आखिरी मौका है।

Trending News

Related News