News

शिमला में हुई सीजन की पहली बर्फबारी, सैलानियों से पर्यटन नगरी हुई गुलजार

Last Modified - December 26, 2016, 5:07 pm

शिमला: सर्दियों के मौसम में पहाड़ों की रानी शिमला का प्लान कर रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है. क्योंकि कुदरत ने 25 साल के बाद शिमला को क्रिसमस पर बर्फबारी का तोहफा दिया है। क्रिसमस के दिन सुबह से ही हल्की बर्फबारी हुई है, जो लोल बर्फबारी का वेट कर रहे थे उनके लिए मानों ये सौगातों से कम नहीं है.

भारी संख्या में सैलानियों के आने से पर्यटन नगरी गुलजार हो गई है। ज्यादातर सैलानी छराबड़ा, कुफरी और फागू की ओर रुख कर रहे हैं। इससे इन पर्यटन स्थलों में रौनक बढ़ गई है।  
क्रिसमस और वीकेंड के चलते राजधानी के होटलों में भारी संख्या में सैलानी पहुंचे हुए हैं। वहीं कई सैलानी माल रोड और रिज में भी घूम रहे हैं और यहां बर्फ के फाहों के साथ क्रिसमस मना रहे हैं।


कुफरी
पर्यटन स्थल कुफ कुफरी, फागू समेत अन्य चोटियों पर भी बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी होने से सैलानियों के चेहरे खिल गए हैं। क्रिसमस के दिन आज सैलानी कुफरी पहुंच रहे हैं।


डलहौजी
डलहौजी में भी रात के 2 बजे से बर्फ पड़ रही है। जिससे सैलानी जमकर लुत्फ उठा रहे हैं। इससे ठंड का प्रकोप भी बढ़ गया है। पर्यटन नगरी में सीज़न की पहली बर्फबारी व वाइट क्रिसमस से सैलानियों को खुश कर दिया है। बर्फबारी की खबर सुनकर काफी संख्या में पर्यटक शिमला पहुंच रहे हैं।


किसानों और बागवानों के चेहरे पर लौटी रौनक
बारिश व बर्फबारी होने से किसानों और बागवानों ने राहत की सांस ली है। मंदी की मार झेल रहे पर्यटक कारोबारी भी खुश नजर आ रहे हैं। खेतों में गेहूं की बिजाई करने के लिए बारिश की आस लगाए बैठे किसानों को भी आस जगी है। बारिश के साथ ही किसानों बागवानों के माथे पर छाई चिंता की लकीरें भी हट गई हैं।


नए साल पर बर्फबारी की उम्मीद जगी
क्रिसमस के बाद अब शिमला में नए साल पर बर्फबारी की उम्मीद जगी है। पहाड़ों की रानी शिमला में इस बार भी नए साल का स्वागत बर्फबारी से होने की संभावना है। उल्लेखनीय है कि मौसम विभाग के पास दर्ज आंकड़ों के हिसाब से शिमला में 25 सालों बाद बर्फबारी हुई है। 25 दिसम्बर को 1991 में बर्फबारी दर्ज की गई थी और आज भी शिमला में 3 सेंटीमीटर बर्फ दर्ज की गई। हर साल इन दिनों शिमला आने वाले पर्यटक इसी उम्मीद से आते हैं कि क्रिसमस व न्यू ईयर पर बर्फबारी देखने को मिलेगी लेकिन हर बार मायूसी ही हाथ लगी है और इस बार पर्यटकों को बर्फबारी देखने को मिली है।

Trending News

Related News