News

ग्रामीणों ने ऐसा क्या किया की गांव में नहीं मिलते आवारा पशु

Last Modified - January 24, 2017, 12:42 pm

छतरपुर जिले के बारीगढ़ नगर परिषद ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर आवारा पशुओं की देखभाल के लिए एक सराहनीय पहल की है। पुराना ब्लॉक परिसर में करीब 2 हजार मवेशियों को पाला जा रहा है, नगर परिषद के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, पार्षद, और स्थानीय लोगों की मदद से इन मवेशियों के खाने पीने की व्यवस्था भी की जा रही है।

इतना ही नहीं इनके देखभाल के लिए करीब 7 चरवाहे भी रखे गए हैं, बता दें कि इन आवारा मवेशियों के चलते किसानों की फसल का नुकासन हो रहा था। साथ ही अक्सर स्थानीय लोग इनका शिकार भी बन रहे थे।

Trending News

Related News