रायपुर News

राजधानी या कचरे का ढेर, मुख्यमंत्री व मंत्रियों के घरों के सामने कचरे का अंबार

Last Modified - January 24, 2017, 8:51 pm

राजधानी रायपुर की बदहाल सफाई व्यवस्था किसी से छुपी नहीं है, मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि प्रदेश के मुख्यमंत्री से लेकर मंत्रियों तक के निवास के बाहर कचरे का ढेर लगा हुआ है। मुख्यमंत्री निवास के आसपास कई स्थानों पर कचरे का अंबार है, जो मुक्कड़ की शक्ल लेता जा रहा है। कुछ ऐसे ही नजारे प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री राजेश मूणत, अजय चंद्राकर, केदार कश्यप, पुन्नुलाल मोहिले, प्रेमप्रकाश पांडे समेत दूसरे मंत्रियों के निवास के बाहर है।

मंत्रियों के निवास के बाहर ये हाल हैं तो समझ लीजिए कि शहर के दूसरे हिस्सों में सफाई व्यवस्था कैसी होगी। वो भी ऐसे समय में जब स्वच्छता सर्वेक्षण 2017 के तहत रायपुर में सफाई की जांच 27 से 29 जनवरी तक होनी है। ऐसे में रायपुर की नाक कैसे बचेगी और कैसे राजधानी की अच्छी रैंकिंग आएगी बड़ा सवाल बना हुआ है। मंत्री निवास के बाहर ही बदहाल सफाई व्यवस्था के सवाल पर महापौर से लेकर स्वास्थ्य विभाग के अध्यक्ष तक इसके लिए मंत्रियों को ही जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। जबकि शहर की सफाई की पूरी जिम्मेदारी नगर निगम के पास ही है हालांकि विपक्ष इस मामले में सत्ता पक्ष को ही दोषी ठहरा रहा है। 

Trending News

Related News