News

एयरो इंडिया के 11 वें संस्करण में 279 विदेशी कंपनियां शामिल, चीन ने पहली बार हिस्सा लिया

Last Modified - February 14, 2017, 7:41 pm

बेंगलुरु के वायुसैनिक अड्डे पर आज एशिया के सबसे बड़े रक्षा उत्पादन एवं वैमानिकी प्रदर्शनी के तौर पर मशहूर एयरो इंडिया के 11 वें संस्करण एयरो इंडिया 2017 का आगाज हुआ। इस दौरान देश-विदेश के अत्याधुनिक जंगी विमान आसमान में गर्जना कर अपनी हवाई ताकत की नुमाइश करते रहे। पांच दिन तक चलने वाले इस एयरो इंडिया में कुल 549 कंपनियां भागीदारी कर रही हैं जिसमें 270 भारतीय और 279 विदेशी कंपनियां हैं।

जिसमें पहली बार चीन की सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी एयर फोर्स का पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भी शामिल है। स्वदेशी तकनीक से निर्मित और भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल हो चुके हल्के लड़ाकू विमान तेजस पर एक बार फिर सबकी निगाहें होंगी जो रोज उड़ान भरेगा। वहीं भारतीय वायुसेना का अग्रिम पंक्ति का लड़ाकू विमान सुखोई-30 के साथ स्वदेशी तकनीक से निर्मित हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर रूद्र ने भी हवा में करतब दिखाए। 

Trending News

Related News