News

नौसेना में भी नंबर वन बनना चाहता है चीन...

Last Modified - February 27, 2017, 10:18 am

चीन अपनी नौसेना की ताकत पर ज्यादा ज़ोर दे रहा है, चीन अब दुनिया को नौसेना की क्षेत्र में अपनी ताकत दिखाना चाहता है साथ समुद्रऔ में अमेरिका प्रभुत्व को कम करना चाहता है. चीन के एक प्रमुख एडमिरल ने पहले विमान वाहक पोत की कमान अपने हाथों में ली और ताइवान के आसपास से गुजरा। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पोत निर्माण में तेजी लाने का वादा किया है। इसके साथ ही ताइवान और पूर्वी चीन सागर जैसे मुद्दों पर अमेरिकी राष्ट्रपति के अप्रत्याशित रुख को लेकर चीन हताश है।

इसलिए अमेरिकी नौसेना की तुलना में चीन अपनी क्षमता को मामूली अंतर पर रखने में जुटा है। चीन की नौसेना की हाल की गतिविधि पर बीजिंग में रहने वाले एक एशियाई कूटनीतिज्ञ ने कहा, 'यह संकट में प्रदर्शन है।' चीन को ट्रंप का रुख उसकी तरफ होने का डर है। इसका कारण यह है कि ट्रंप अत्यंत अस्थिर हैं और यदि ऐसा होता है तो चीन तैयार है। कूटनीतिज्ञ ने कहा कि नौसेना को लेकर बीजिंग आराम की मुद्रा नहीं अपनाएगा।

Trending News

Related News