News

धोनी को आचार संहिता उल्लंघन के लिए लगी फटकार...

Last Modified - April 7, 2017, 10:45 pm

 

आईपीएल के पिछले 9 सीजन तक कप्तान के रूप में खेल चुके महेंद्र सिंह धोनी के लिए इस सीजन का पहला ही मैच ठीक नहीं रहा. न तो वह बल्ले से कमाल कर पाए और न ही कीपिंग में ठीक दिखे. उनसे एक कैच छूट गया. इस पर अब उन्हें आईपीएल आचार संहिता के उल्लंघन के लिए फटकार भी लगाई गई है. हालांकि कि आईपीएल की ओर से इसका कोई कारण नहीं बताया गया है, लेकिन कहा जा रहा है कि धोनी ने गुरुवार को मैच के दौरान एक ऐसी मांग रख दी, जो आईपीएल की संहिता के हिसाब से सही नहीं रही...

एमएस धोनी को राइजिंग सुपरजायंट्स और मुंबई इंडियन्स के बीच खेले गए मैच के लिए फटकार लगाई गई है. आईपीएल ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि मैच रेफरी मनु नैयर ने उन्हें क्यों फटकार लगाई. आईपीएल के आधिकारिक बयान के अनुसार ‘महेंद्र सिंह धोनी ने खेल भावना के विपरीत व्यवहार करने के लिए लेवल एक का अपराध (अनुच्छेद 2.1.1) स्वीकार किया है. आईपीएल आचार संहिता के इस लेवल के उल्लंघन पर मैच रेफरी का फैसला अंतिम और स्वीकार्य होता है.’

वैसे पूरे मैच में महेंद्र सिंह धोनी ने एक ही गलती की थी और वह थी डीआरएस की मांग रखना. पुणे टीम की फील्डिंग के दौरान धोनी विकेटकीपिंग कर रहे थे. बात मुंबई की पारी के 15वें ओवर की है, जब कीरन पोलार्ड के खिलाफ पगबाधा की अपील हुई और अंपायर ने उसे नकार दिया, जो धोनी ने अंपायर से रिव्यू मांग लिया. वैसे कहा जा रहा था कि धोनी ने ऐसा मजाक में किया है, क्योंकि उन्हें नियम तो पता ही होगा. धोनी के इस कदम पर सभी हंस पड़े थे. वैसे जिस अपील को अंपायर एस रवि ने ठुकराया था, उसमें पोलार्ड आउट दिख रहे थे.

Trending News

Related News