News

महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने की तीखी टिप्पणी

Last Modified - April 24, 2017, 10:59 am


सुप्रीम कोर्ट ने महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर तीखी टिप्पणी की है. कोर्ट ने एक युवती के खुदकुशी मामले में सुनवाई करते हुए कहा. कि देश में महिलाएं शांति से क्यों नहीं रह सकती. कोर्ट ने साफतौर पर कहा. कि महिलाओं को प्यार के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता है.

उसकी स्वतंत्र पसंद पर निर्भर है कि वह किससे प्यार करे. जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने हिमाचल के एक युवक को हाईकोर्ट से सुनाई गई 7 साल की सजा के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई के दौरान ये बातें कही. दरअसल छेड़छाड़ से परेशान युवती ने खुदकुशी कर ली थी. जिसके बाद हाईकोर्ट ने आरोपी युवक सात साल की सजा सुनाई थी. जिसे शीर्ष अदालत में चुनौती दी गई है. पीठ ने अपील पर फैसला सुरक्षित रखते हुए कई अहम टिप्पणियां की.

Trending News

Related News