भोपाल News

मप्र: अब नहीं चलेगी प्राइवेट स्कूलों की मनमानी, फीस नियंत्रण के लिए आयोग बनाएगी सरकार

Last Modified - April 27, 2017, 9:05 am



मध्यप्रदेश में चल रहे प्राइवेट स्कूलो की मनमानी बढ़ती फीस को लेकर ब्ड शिवराज सिंह चैहान गंभीर हो गए हैं। उन्होंने मंच से स्वीकार किया कि प्रदेश में प्राइवेट स्कूल बहुत ज्यादा फीस लेते हैं, जिससे वहां गरीब का बच्चा नहीं पढ़ सकता। मुख्यमंत्री ने निजी स्कूलों की फीस पर नियंत्रण के लिए फीस अथॉरिटी का गठन करने, इसका ड्रॉफ्ट तैयार किए जाने की बात कही। साथ ही ये भी कहा कि जल्दी ही आयोग भी बन जाएगा।

सरकार ने आदिवासी बच्चों के लिए प्रदेश में चार आवासीय गुरूकुलों की शुरूआत की है। भोपाल के बावडिया कला स्थित गुरूकुल पहुंचे मुख्यमंत्री ने पहले तो बच्चों की क्लास ली। फिर स्पोर्ट्स रूम पहुंचकर टेबल टेनिस भी खेला। इसके बाद बच्चों के साथ बैठकर खाना भी खाया। सरकार की कोशिश तो अच्छी है, मगर सवाल ये है कि फीस रेग्युलेटरी अथॉरिटी का हाल भी कहीं इंजीनियरिंग और मेडिकल कालेजों के लिए बनी फीस अथारिटी जैसा न हो जाए..?

Trending News

Related News