News

नक्सलियों से निपटने इजराइली रडार की मदद लेगी सरकार,जंगल में नक्सली मूवमेंट की हर जानकारी देगा रडार

Last Modified - April 28, 2017, 1:01 pm

छत्तीसगढ़ के सुकमा में हमले के बाद गृह मंत्रालय. नक्सलियों का मूवमेंट जानने के लिए खास तरीके के रडार खरीदने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए इजरायल से मदद ली जाएगी। इस रडार का नाम फोलिएज पेनीट्रेटिंग रडार है, जो घने जंगलों में भी किसी हलचल की जानकारी आसानी से दे सकता है।

बताया जा रहा है, कि इस रडार को अलग-अलग लोकेशन पर फिट किया जाएगा और एक सेन्ट्रल मॉनिटरिंग कंट्रोल रूम से जोड़ा जाएगा। रडार किसी भी मूवमेंट को पकड़ने के साथ ही उस जगह की इमेज और वीडियो बनाकर सीधा कंट्रोल रूम तक पहुंचाएगा। इस तकनीक से नक्सलियों की लोकेशन और संख्या के साथ-साथ उनके पास मौजूद हथियार और गोला-बारूद की जानकारी भी कंट्रोल रूम को मिलेगी। यानि नक्सलियों के मूवमेंट को आसानी से ट्रेस किया जा सकता है और उनके हमले से पहले ही मुंहतोड़ जवाब दिया जा सकता है। फिलहाल नक्सलियों की लोकेशन का पता लगाने के लिए सुरक्षा बल अलग-अलग UAV का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन ये UAV घने जंगलों में ज्यादा कारगर साबित नहीं हो पाते। यही वजह है, कि बार-बार नक्सली. सुरक्षा बलों पर बड़े हमले करने में कामयाब हो जाते हैं।

Trending News

Related News