रायपुर News

नक्सल प्रभावित जिलों में भी बनेगा यूनिफाइड ऑपरेशनल कमांड, खोले जाएंगे संयुक्त प्रशिक्षण केंद्र

Last Modified - May 6, 2017, 5:37 pm

नक्सली समस्या के खात्मे के लिए राज्य स्तरीय यूनिफाईड कमांड की तरह ही छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित जिलों में भी जिलास्तरीय यूनिफाईड ऑपरेशनल कमांड का गठन किया जाएगा. इस बात का फैसला मुख्यमंत्री रमन सिंह की अध्यक्षता में हुई यूनिफाइड कमांड की बैठक में लिया गया. इसके अलावा बैठक में सुकमा-बीजापुर में केन्द्र और राज्य के सुरक्षा बलों के लिए संयुक्त प्रशिक्षण केन्द्र का भी प्रस्ताव रखा गया ।

मुख्यमंत्री रमन सिंह की अध्यक्षता में हुई यूनीफाइड कमांड की बैठक में नक्सलियों के खिलाफ चलाए जाने वाले ऑपरेशन को कारगर बनाने के लिए कई अहम फैसले लिए गए. बैठक में पुलिस अधीक्षकों के नेतृत्व में जिलास्तरीय यूनिफाईड कमांड के गठन का फैसला लिया गया जिसमें उन जिलों में कार्यरत CRPF के अफसरों को सदस्य के रूप में शामिल किया जाएगा.

वहीं मुख्यमंत्री ने फोर्स और पुलिस में तालमेल बढ़ाने के लिए सुकमा और बीजापुर जिलों में संयुक्त प्रशिक्षण केन्द्र की स्थापना का भी सुझाव दिया. मुख्यमंत्री ने सूचना तंत्र की मजबूती के साथ ही प्रभावी ऐरिया डोमिनेशन की जरूरत बतायी ।

पुलिस महानिदेशक ए एन उपाध्याय ने बैठख के बाद पत्रकार वार्ता में बताया कि बस्तर में सड़क निर्माण और विकास से नक्सली बौखला हुए हैं...और इसी के चलते हमलों को अंजाम दे रहे हैं. वहीं पत्रकार वार्ता में भेज्जी इंजोरम सड़क की गुणवत्ता पर पूछे गए सवाल का जबाव देते हुए उन्होंने इसे गंभीर मुद्दा मानने से ही इंकार कर दिया.

यूनीफाइड कमांड की बैठक में गृहमंत्री राम सेवक पैकरा,आंतरिक सुरक्षा सलाहकार के विजय कुमार, मुख्यसचिव विवेक ढांड़, प्रमुख सचिव गृह बीवीआर सुब्रमण्यम, CRPF डीजी राजीव राय भटनागर, स्पेशल डीजी कुलदीप सिंह , ITBP के आईजी पीसी पापट के अलावा बीएसएफ, SSB, एयर फोर्स के साथ ही बाकी विभागों के अफसर भी मौजूद रहे.


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News