News

आर्मी जैसी ट्रेनिंग ले रहे नक्सली..

Last Modified - May 6, 2017, 11:58 am

सरकार नक्सलियों से निपटने के लिए रणनीति पर रणनीति बना रही है लेकिन इस बात से बेखौफ नक्सली अपनी ताकत बढ़ाने में जुटे है वो भी फोर्स के अंदाज में. जी हां, नक्सलियों की ट्रेनिंग का एक नया वीडियो सामने आया है. जिसमें नक्सली आर्मी के अंदाज में ट्रेनिंग लेते नजर आ रहे है. वीडियों में महिला नक्सली भी दिख रही है. हालांकि IBC24 इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता. ये वीडियो कब का और कहां का है. इसका भी कोई प्रमाण नहीं है.

जंगल में जंग की तैयारी लड़ाके तैयार करने में जुटे नक्सली जी हां, जंगल के बीच ट्रेनिंग लेते नक्सलियों का एक नया वीडियो सामने आया है. जिसमें नक्सली हू-ब-हू आर्मी की तरह ट्रेनिंग लेते नजर आ रहे है. ठीक वैसी ही ट्रेनिंग जैसी ट्रेनिंग आर्मी के जवान लेते है. ताकी नक्सली जंगल में तैनात फोर्स के जवानों से उसी अंदाज में भिड़ सके. इस वीडियो में महिला नक्सली भी ये खास ट्रेनिंग लेते नजर आ रही है. इतना ही नहीं नक्सली पहली बार ट्रैक सूट में दिखाई दे रहे है. हालांकि ये वीडिया कब का है. कहां का है. इसके प्रमाण नहीं है... IBC24 सोशल मीडिया में वायरल इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि भी नहीं करता है. आइए अब आपको दिखाते है. नक्सली किस तरह की ट्रेनिंग ले रहे है.

- ऑप्टिकल क्लियरिंग रन - इस खास ट्रेनिंग का मतलब होता है. बाधाओं को दूर कर आगे बढ़ना. आर्मी के जवान जब जंगल में ऑपरेशन पर निकलते है. तो झाड़ियों, टीलों और कांटों के रूप में उनके सामने इस तरह की कई बाधाएं आती है. इसके लिए उन्हें इसी तरह से ट्रेंड किया जाता है. ठीक उसी तरह नक्सली भी इस वीडियो में ट्रेनिंग लेते नजर आ रहे है.

- 9 फीट डिच जंप - इस खास ट्रेनिंग का नाम है 9 फीट डीच जंप.. दरअसल फोर्स के कैंप में चारों तरफ सुरक्षा की दृष्टि से 9 फीट गहरे और चौड़े गड्ढ़े खोदे जाते है. और जवानों को इसे पार करने की खास ट्रेनिंग दी जाती है. इस वीडियो में नक्सली भी कुछ इसी अंदाज में ट्रेनिंग लेते दिख रहे है.

- मंकी रोप क्लाइम्बिंग - इस अहम ट्रेनिंग का नाम है मंकी रोप क्लाइंबिंग. दरअसल जवान जब ऑपरेशन और सर्चिंग के लिए निकलते है... तो उनके सामने नदी, नाले के रूप में बाधाएं आती है... इन बाधाओं से निपटने के लिए इस तरह की खास ट्रेनिंग दी जाती है... ताकि रस्सी के सहारे जवाने एक सिरे से दूसरे सिर तक पहुंच सके. नक्सली भी इसी तरह का अभ्यास करते दिख रहे है

- क्रॉलिंग रन - क्रालिंग रन का मतलब होता है... कोहनी और पैरों के सहारे रेंगते हुए आगे बढ़ना... जवान इसका उपयोग दुश्मनों को चकमा देकर सतर्कता के साथ आगे बढ़ने के लिए करते है... कुछ इसी अंदाज में नक्सली भी प्रशिक्षण ले रहे है.. छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के इस तरह के ट्रेनिंग कैंप से गृहमंत्री भी इंकार नहीं कर रहे है.

- हर बड़ी नक्सली वारदात की समीक्षा में ये बात सामने आई है. कि गोरिल

Trending News

Related News