जबलपुरजशपुर News

अनोखा मामला: नवजात के जन्म लेने के 6 मिनट बाद बन गया आधार कार्ड


अस्पताल में बच्चा पैदा हुआ नहीं कि चंद मिनिट में ही उसका आधार कार्ड बन गया. जी हां, जबलपुर के लेडी एल्गिन अस्पताल में ये काम हुआ है. जहां एक नवजात के जन्म लेते ही 6वें मिनिट में उसका आधार कार्ड बन गया. खास बात ये है. कि आधार कार्ड में बच्चे का नाम पांडे जी रखा गया.

जबलपुर के सरकारी लेडी एल्गिन अस्पताल में भर्ती ये है वंदना पांडे. जिन्होंने शनिवार सुबह 11 बजकर 57 मिनिट पर एक बच्चे को जन्म दिया और 12 बजकर 3 मिनिट पर इस नवजात का आधार कार्ड बन गया. बच्चे के जन्म के बाद यहां पहुंची ई गवर्नेंस की टीम ने मोबाइल टैब में बच्चे के पिता कुंवर बहादुर का अंगूठा स्कैन किया और उनके आधार की डिटेल सामने आ गई.

जिसके बाद टीम ने बच्चे का नाम का फार्म भरा और पिता के आधार से उसे अटैच कर दिया. मजेदार बात ये रही. कि फार्म भरते वक्त वेंडर ने बच्चे का नाम पूछा. अब चूंकी नवजात का नाम तो तय हुआ नहीं था. तो पिता ने नाम पांडे जी रखवा दिया. डॉक्टरों का दावा है. कि जन्म लेते ही किसी नवजात का आधार कार्ड बनने का ये पहला मामला है.

वंदना ने बेटे को जन्म देने के बाद पहली बार आधार कार्ड के लिए उतारी गई उसकी फोटो में उसे देखा. अब कुंवर बहादुर पांडे और उसकी पत्नी वंदना को अपने बेटे के जन्म पर जितनी खुशी है. उससे कहीं ज्यादा खुशी उसके पैदा होते ही आधार कार्ड बनने की है.

क्योंकि इससे पहले कुंवर बहादुर पांडेय को अपना और अपनी पत्नी के साथ ही दो बच्चों का आधार कार्ड बनवाने के लिए बहुत पापड़ बेलने पड़े थे. दरअसल आधार कार्ड बनाने वालों में बच्चों की संख्या बहुत कम दर्ज हो रही है. इसलिए जिला स्तर पर यूआईडी की ओर से निर्देश जारी किए गए. कि अस्पतालों में भी टीम जाकर नवजात बच्चों के आधार बनाए. जिस पर काम शुरू हो गया है.

Trending News

Related News