News

अरविंद केजरीवाल पर सहयोगी कपिल मिश्रा ने ज़मीन सौदे के लिए 2 करोड़ रुपए लेने का आरोप लगाया

Last Modified - May 8, 2017, 2:44 pm

दिल्ली के मुख्यमंत्री और 'आप' पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल पर उनके सहयोगी रहे कपिल मिश्र ने एक जमीन सौदे में 2 करोड़ रुपये का रिश्वत लेने का आरोप लगाया है. वहीं दिल्ली सरकार की ओर से उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोपों को खारिज कर दिया और कहा कि इस पर कोई यकीन नहीं करेगा. पार्टी ने न तो जांच की बात कही. न ही किसी के इस्तीफे की बात कही.

अब दिल्ली के एलजी ने अब इस मामले में एसीबी को जांच के आदेश दे दिए हैं. रविवार को कपिल मिश्रा ने एलजी से मुलाकात की थी. उन्होंने मुलाकात के बाद कहा था कि एलजी को उन्होंने पूरे मामले पर बयान दिया है साथ ही सबूत भी दिए हैं. उन्होंने एलजी से इस मामले में जांच कराए जाने की मांग की थी.

बता दें कि कई लोगों को यह बात हजम नहीं हुई कि जो पार्टी आरोपों की राजनीति से ही सत्ता के शिखर पर पहुंच गई वही पार्टी अब अपने शीर्ष नेता पर लग रहे 'घूस' और भ्रष्टाचार के आरोपों पर केवल आरोप को नकारने का काम कर रही है. ईमानदारी के डंके पर राजनीति करने की बात करने वाली आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल मीडिया के सामने तक नहीं आए.

Trending News

Related News