रायपुर News

छत्तीसगढ़: भीषण गर्मी में गहराया जल संकट ..भूजल स्तर गिरा नीचे, 6 हजार हैंडपंप सूखे

Last Modified - May 9, 2017, 3:33 pm


छत्तीसगढ़ में भीषण गर्मी के कारण जल संकट गहरा गया है। ग्रामीण इलाके में भूजल स्तर काफी नीचे चले जाने के कारण 6 हजार हैंडपंप सूख गए हैं, जबकि करीब 2 हजार हैंडपंप खराब पड़े हुए हैं। इससे स्थिति और विकराल हो गई है। वहीं सरकार हालात पर काबू पाने में जुटी है।

भीषण गर्मी के कारण इस साल भी छत्तीसगढ़ के ग्रामीण इलाकों में भीषण पेयजल संकट की स्थिति बन गई है। ग्रामीण इलाकों में पीने का पानी मुहैया कराने के लिए 2 लाख 65 हजार 961 हैंडपंप खोदे गए हैं, इनमें से 5 हजार 928 हैंडपंप जल स्तर नीचे जाने के कारण और 1 हजार 871 हैंडपंप खराब होने के कारण बंद पड़े हुए हैं। इसके अलावा करीब 10 हजार हैंडपंप ऐसे हैं जिसमें जलस्तर कम होने के कारण बहुत कम पानी आ रहा है। सरकार का कहना है, कि इन हैंडपंपों को चालू करने के लिए काम शुरू हो गया है।

सरकार ने भीषण पेयजल संकट से निपटने के लिए जलस्तर 36 मीटर से ज्यादा नीचे जा चुके हैंडपंपों पर सिंगल फेस मोटर लगाने का फैसला किया है, ताकि लोगों को पानी के लिए धूप में घंटों मशक्कत ना करना पड़े। इसके साथ ही 3 हजार 2 सौ नए हैंडपंप खोदने का फैसला किया गया है।

राज्य सरकार जल संकट से निपटने के लिए समय पर योजना बनाने और उस पर अमल करने में नाकाम रही। मई के महीने में जब ग्रामीण इलाकों में त्राहि-त्राहि मचने लगी, तब उपाय तलाशे जा रहे हैं। अब देखना है.. सरकार आम लोगों को इन उपायों से कितना राहत पहुंचा पाती है।

Trending News

Related News