रायपुर News

रायपुर में भूपेश बघेल के बहाने कांग्रेस ने दिखाई एकजुटता..

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल ने अपने और परिवार के सदस्यों के खिलाफ EOW में दर्ज मामले में अचानक बाजी पलट दी। वे अपनी मां और पत्नी को लेकर बयान दर्ज कराने और गिरफ्तारी देने के लिए EOW दफ्तर पहुंच गए। उनके इस कदम में पूरी पार्टी उनके साथ खड़ी नजर आई, लेकिन EOW ने बयान दर्ज करने या उन्हें गिरफ्तार करने से मना कर दिया। वहीं मुख्यमंत्री ने पूरे मामले से खुद को अलग करते हुए ये कहा कि कानून अपना काम करेगा। 

रायपुर स्थित EOW दफ्तर के आगे झूमाझटकी. धरना-प्रदर्शन.. और पुतला दहन के साथ मेनगेट पर ताला जड़ने की ये घटना, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल के खिलाफ दर्ज FIR को लेकर पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के गुस्से का इजहार है। ये घटना तब हुई, जब संगठन चुनाव के लिए होने वाली बैठक में जाने की बजाय भूपेश बघेल अपनी पत्नी और मां के साथ विवादित जमीन के सारे दस्तावेज लेकर EOW पहुंच गए और अपना बयान दर्ज करने के साथ गिरफ्तारी की मांग करने लगे।

भूपेश बघेल के EOW दफ्तर पहुंचने की खबर मिलते ही कांग्रेस के सभी छोटे बड़े नेता भी उनके समर्थन में वहां पहुंचे। धरना, प्रदर्शन, पुतला दहन और तालाबंदी में सभी शामिल रहे। इधर, मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने एक बार फिर दोहराया कि कानून अपना काम कर रहा है। जांच में सच्चाई सामने आ जाएगी। भिलाई के आवासीय जमीन घोटाले में FIR के बाद जो मामला सरकार और भूपेश बघेल के बीच दिख रहा था, उसे बघेल ने ये दांव खेलकर सरकार वर्सेस कांग्रेस का बना दिया है। जाहिर है ये सियासी तूफान जल्दी थमने वाला नहीं।

Trending News

Related News