• Tata Sky Image

    1152

  • Airtel Image

    342

  • Videocon  Image

    895

  • Videocon  Image

    719

इंदौर News

बिन दुल्हे की बारात..

आपको ऐसे बारात में लेकर चलते हैं. जिसमें दूल्हा नहीं था. बावजूद इसके ये बारात निकली औऱ इसका किसी भी आम बारात से भी भव्य तरीके से स्वागत किया गया. आखिर किसकी थी ये बारात आप भी देखिए.

करीब तीन सौ लोगों का हुजूम, बारात में नाचते गाते झूमते लोग. हर किसी के चेहरे में खुशी और मन में उल्लास. ये अनोखी बारात है. जिसमें न तो दूल्हा है और न ही दूल्हे के परिजन. लेकिन फिर भी लोग झूम रहे हैं. नाच रहे हैं और अपनी खुशी में सभी को शामिल कर रहे. दरअसल ये सभी खरगोन नगरपालिका के सफाईकर्मी हैं. जिनकी बारात निकली कलेक्टर साहब के दरवाजे तक और जैसे ही ये बारात कलेक्टर के घर पर पहुंची. साहब ने न  सिर्फ बारातियों का स्वागत किया बल्कि अपने हाथों से इन्हें खाना परोसकर खिलाया. आखिर क्यों कलेक्टर ने इस बारात का स्वागत किया. आप खुद ही सुन लिजिए.

 

खरगोन जिले के इतिहास में  ये पहला मौका था जब सफाईकर्मियों को कलेक्टर ने हाथों से खाना परोसा हो और ऐसा हो भी क्यों न. क्योंकि इन्हीं सफाई कर्मियों के बूते खरगोन में पूरे देश में 2 लाख से कम आबादी वाले शहरों में होने वाले सफाई के मामले में अव्वल स्थान हासिल किया. खरगोन को पूरे देश में स्वच्छता के लिए 17 वां रैंक भी मिला है. जिसके लिए इन सफाईकर्मियों का सबसे बड़ा योगदान है और यही वजह है कि जिले को गौरव दिलाने वाले इन कर्मवीरों को सम्मान देते वक्त प्रशासन खुद गौरवान्वित महसूस कर रहा है.

Trending News

Related News