News

बुरकापाल हमले में शामिल कुख्यात नक्सली पो़ड़ियम पंडा ने किया सरेंडर

Last Modified - May 18, 2017, 9:57 am

बुरकापाल हमले के अलावा 19 नक्सली वारदात में शामिल कुख्यात नक्सली पोड़ियम पंडा ने सुकमा एसपी के सामने सरेंडर कर दिया है... वहीं बस्तर आईजी के सामने एक महिला समेत 19 नक्सलियों ने सरेंडर किया है। बुरकापाल हमले के बाद चलाए जा रहे संयुक्त ऑपरेशन से नक्सलियों में दहशत है और वे या तो प्रदेश की सीमा से जुड़े दूसरे राज्य में शरण ले रहे हैं... या फिर सरेंडर कर रहे हैं।

ये है कुख्यात नक्सली पोड़ियम पंडा, जो सुकमा जिले के बुरकापाल में हुए नक्सली हमले में शामिल था। पोड़ियम पंडा ने सुकमा एसपी अभिषेक मीणा के सामने करीब एक हफ्ते पहले सरेंडर करते हुए ये बताया कि वो बुरकापाल के अलावा ताड़मेटला समेत 19 अन्य नक्सली घटनाओं में शामिल रहा है। पोड़ियम पंडा ने बताया है कि नक्सली 15 अप्रैल से बुरकापाल हमले की प्लानिंग कर रहे थे। पूछताछ में उसने शहरी नेटवर्क के बारे में भी जानकारी दी है। जिसमें नेता, व्यापारी और सामाजिक कार्यकर्ता शामिल हैं, जो अलग-अलग तरह से नक्सलियों की मदद कर रहे हैं।

इधर, बस्तर पुलिस के सामने दरभा और पूर्वी डिवीजनल कमेटी के कुल 21 नक्सलियों ने सरेंडर किया है। 18 से 30 साल के नक्सलियों में एक महिला नक्सली भी शामिल है। जिनमें से तीन पर चार लाख का ईनाम भी था। सरेंडर नक्सलियों को पुनर्वास योजना का लाभ दिया जाएगा। इधर, बस्तर संयुक्त संघर्ष समिति ने रायपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि पोड़ियम पंडा चिंतागुफा का पूर्व सरपंच और कम्युनिष्ट पार्टी का नेता है। जिसे पुलिस प्रताड़ित कर रही है। समिति ने के पदाधिकारियों ने पोड़ियम पंडा को गैरकानूनी तरीके से हिरासत में रखे जाने का आरोप लगाया है। सुरक्षा बलों के संयुक्त ऑपरेशन से नक्सलियों के हौसले टूटे हैं और यही वजह है कि बड़े-छोटे सभी नक्सलियों ने या तो मैदान छोड़कर भागना या फिर सरेंडर शुरू कर दिया है। 

Trending News

Related News