कोरबा News

छत्तीसगढ़ में 'किराए की कोख' का पर्दाफाश

Last Modified - June 17, 2017, 2:33 pm

 

छत्तीसगढ़ में किराए की कोख यानि सरोगेस के मामले का खुलासा होने के बाद हड़कंप मच गया है। कोरबा कोतवाली पुलिस के खुलासे के बाद परत दर पर राज़ खुल रहे हैं। कल जिस महिला को पुलिस ने गिरफ्तार किया था, उसने कबूल किया है, कि पैसे के लालच में उसने कोख का सौदा किया था। इस मामले में कई ऐसे पेंच हैं, जिसने पुलिस को भी उलझा दिया है।

ये वही पूजा सारथी है, जिसे कोरबा पुलिस ने सीतामणी में बच्चा बेचे जाने की सूचना पर छापा मारकर गिरफ्तार किया है। पूजा को रायपुर निवासी कोमल  ने इस नवजात बच्ची की देखरेख का जिम्मा दिया, लेकिन वो बच्ची को लेकर सीतामणी भाग आई। पूजा ख़ुद भी गर्भवती है और उसने रायपुर में रहने वाली कोमल से अपनी कोख का सौदा महज़ डेढ़ लाख रुपए में किया। पूजा ने ख़ुद कबूल किया, है कि उसने पैसे की ख़ातिर ये सब किया। 

इस नवजात बच्ची का जिस अस्पताल में जन्म हुआ है, वहां इसकी मां का नाम किसी दूसरे नाम पर दर्ज है। पुलिस अब बच्ची का डीएनए टेस्ट कराएगी। ये भी खुलासा हुआ है, कि पूजा के पेट में 3 भ्रूण थे। बच्चा लेने वाले लोगों ने जुड़वा बच्चे की डिमांड की थी, लिहाज़ा चेन्नई ले जाकर पूजा का एक भ्रूण गिरा दिया गया। पुलिस अब तमाम पहलुओं पर जांच की बात कह रही है।

कोरबा पुलिस ने इस मामले में 4 महिलाओं समेत पांच लोगों की गिरफ्तारी तो कर ली है, लेकिन परत दर परत खुलते राज़ से ये  बात तो साफ़ है, कि इसमें किसी बड़े गिरोह का हाथ है। अब देखना है, एजेंटों के बाद पुलिस मास्टरमाइंड तक कब तक पहुंचती है।

 

https://www.youtube.com/watch?v=_GeXE_zklqI

 

Trending News

Related News