दंतेवाड़ा News

इस गांव के मुर्दा ले रहे थे पेंशन, हुआ ये खुलासा

Last Modified - June 18, 2017, 4:27 pm

 

दो साल पहले जिन लोगों की मौत हो चुकी है उन लोगों को पंचायत ने जिंदा कर दिया। यह कारनामा करने वाले सरपंच,सचिव के खिलाफ पुलिस ने जब मामला दर्ज किया तो इसकी भनक मिलते ही फरार हो गए हैं। मामला जशपुर जिले के बासेन पँचायत का है।

सामजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत बगीचा विकासखण्ड के बासेन ग्राम पंचायत के सरपंच और सचिव ने ऐसा जादू किया कि 6 लोगों को दो साल पहले मरने के बाद भी जिन्दा कर दिया। जिन्दा करने का तरीका भी बड़ा रोचक है, इन सभी की मौत को दो साल बीत गए। लेकिन ये 6 लोग पेंशन खाते से जुड़े पंचायत के कागजों में जिन्दा है, बैंकों में जिन्दा हैं। 

दरअसल बासेन पंचायत के सरपंच आदित्य मिंज और सचिव मोनिका मिंज ने पंचायत के निराश्रित पेंशनधारियों तरसीयूस, सिसिलिया, टँगाल, सनी, सेलबेस्टर, पुलमनी इन 6 लोगों का पेंशन 2015 से लेकर अब तक निकालते रहे जबकि इन सभी की मौत अप्रैल, अक्टूबर और अगस्त 2015 में हो गई थी। सरपंच - सचिव दोनों ने योजना बनाकर शासन को इनके मरने की जानकारी नहीं दी और अब तक मर चुके लोगों के नाम से 7 हजार 8 सौ रूपये बैंक से निकलकर हजम कर लिए।इसका खुलासा गाँव के ही ओस्कर मिंज की शिकायत की जांच में हुआ। 

जनपद पंचायत बगीचा के सीईओ की ओर से इस मामले में बगीचा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई।बगीचा थाना प्रभारी ने सरपंच और सचिव के खिलाफ आईपीसी की धारा 409,34 का जुर्म दर्ज कर लिया है।दोनों आरोपी अभी फरार हैं।

 

Trending News

Related News