कवर्धा News

दो किसानों की खुदकुशी के बाद छत्तीसगढ़ में भी तेज़ हुई सियासत

हरियाणा, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश में किसानों के मुद्दे ने जोर पकड़ा है और अब छत्तीसगढ़ में भी दो किसानों की खुदकुशी के बाद यहां भी मौत पर राजनीति शुरू हो गई है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल जहां कवर्धा जिले में खुदकुशी करने वाले किसान के परिजन से मिलने उनके घर पहुंचे। वहीं जोगी ने भी प्रदेश की सरकार पर निशाना साधा है। हालांकि मुख्यमंत्री और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने किसानों के मुद्दे पर विपक्ष के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है।

ये तस्वीरें कवर्धा जिले के वीरेंद्रनगर की हैं। जिसमें प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल और पार्टी के नेता मोहम्मद अकबर खुदकुशी करने वाले किसान रामझूल के परिजन से मिलते नजर आ रहे हैं। रामझूल की मौत के बाद भूपेश ने परिजनों पर दबाव बनाकर बयान बदलवाने का आरोप लगाया है। साथ ही राजनांदगांव के गोपालपुर में भी किसान की खुदकुशी पर सरकार को घेरा। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के सुप्रीमो अजीत जोगी ने दो किसानों की मौत के मुद्दे पर कहा कि रमन सिंह का दिल बड़ा नहीं है इसलिए वो किसानों को इतना समर्थन मूल्य नहीं दे पा रहे हैं। 

इधर, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का कहना है कि भावनात्मक कारणों से भी आत्महत्या होती है। हर मामले को किसान के कर्ज से जोड़ना ठीक नहीं। उन्होंने इस बारे में कलेक्टर से रिपोर्ट मांगे जाने की बात भी कही। वहीं भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष  धरमलाल कौशिक ने जोगी पर निशाना साधते हुए कहा कि जब वो मुख्यमंत्री थे और केंद्र में भी उनका शासन था, तो किसानों के हित में कुछ क्यों नहीं किया। किसानों ने चाहे जिस भी वजह से मौत को गले लगाया हो.प्रदेश के सियासतदानों को उनकी मौत पर राजनीति करने का मौका जरूर मिल गया है। 

 

Trending News

Related News