News

मूवी रिव्यू: ट्रांसफॉर्मर 'द लास्ट नाइट'

Last Modified - July 1, 2017, 6:20 pm

 

इंसान और रोबोट पर बनी फिल्म ट्रांसफॉर्मर फिल्म की सभी सीरीज़ काफी पॉपुलर रही है जिसे दर्शकों का काफी अच्छा रिस्पॉन्स भी मिला है. टॉन्सफॉर्मर की पांचवी सीरीज़ 'द लास्ट नाइट फिल्म में दुनिया में ट्रांसफॉर्मर्स के बीच ख़तरनाक जंग की कहानी है.

फिल्म की शुरुआत अब से 1600 साल पहले की दुनिया में होती है, जब दुनिया के पहले ट्रांसफॉर्मर ने एक जादूगर को बुराई पर काबू पाने के लिए एक छड़ी दी थी। उस जादूगर के मरने पर वह छड़ी उसके साथ ही दफना दी गई थी। खास बात यह है कि उस छड़ी को उस जादूगर का कोई फैमिली मेंबर ही इस्तेमाल कर सकता है। 

बुरी शक्तियां उस छड़ी को हासिल करने के लिए अक्सर पृथ्वी पर हमला करती रहती हैं। अबकी बार बुरी ताकतों ने पूरी ताकत से उस छड़ी को हासिल करने के लिए हमला बोल दिया है। एक तरफ बुरी शक्तियां और दूसरी तरफ अच्छाई रक्षक अपनी-अपनी ट्रांसफॉर्मर्स की फौज के साथ उस छड़ी को पाने की कोशिश में एक-दूसरे से भिड़ जाते हैं। क्या पृथ्वी के ये रक्षक शूरवीर अपनी कोशिशों में कामयाब हो पाएंगे? यह जानने के लिए आपको थिएटर में फिल्म देखनी होगी। 

मार्क वॉलबर्ग ने शूरवीर रक्षक के रोल में बढ़िया एक्टिंग की है। उनके ऐक्शन सीन्स जबर्दस्त बन पड़े हैं, तो उन्होंने एक सिंगल फादर के रोल को भी पूरी तरह जिया है। वहीं लौरा हेडेक ने जादूगर की वंशज प्रोफेसर के रोल में बढ़िया काम किया है। जिंदगी में पहली बार ट्रांसफॉर्मर्स की दुनिया में एंट्री करने के बाद उन्होंने अपना दम दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। वहीं ट्रांसफॉर्मर्स की जानकारी रखने वाले एंथनी होपकिंस ने बेहतरीन रोल किया है। वह बाकी कलाकारों के मुकाबले छोटे रोल में भी प्रभाव छोड़ते हैं। 

फिल्म के फर्स्ट हाफ में आपको ट्रांसफॉर्मर्स के बीच छोटी-मोटी मुठभेड़ों का मजा मिलता है, तो सेकंड हाफ में खतरनाक जंग के सीन आपको हिलाकर रख देंगे। ट्रांसफॉर्मर्स के बीच जंग के खतरनाक सीन आपको सीट से चिपककर और नजरें स्क्रीन पर टिकाए रखने के लिए मजबूर कर देंगे, वरना आप कुछ मिस कर देंगे। हिंदी में डब वर्जन में हिंदी के दर्शकों के लिए चुटीले संवाद भी डाले गए हैं। हालांकि अगर आपको बहुत ज्यादा मारधाड़ और ऐक्शन पसंद नहीं है, तो यह फिल्म आपके लिए नहीं है। 

 

Trending News

Related News