News

हवस में अंधे 5 दरिंदों ने लूटी युवती की अस्मत

छत्तीसगढ़ की राजधानी एक बार फिर शर्मसार हुई है. खमतराई इलाके में एक 20 साल की युवती के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है. हालांकि पुलिस ने सभी पांचो आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की सभी पहलुओं की जांच कर रही है । थाने में खडी ये वही पीड़िता है जिसके साथ इन पांच दरिन्दो ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया है. 20 वर्षीय पीडिता बलौदाबाजार की रहने वाली है और राजधानी के संतोषी नगर में रहकर राजधानी के एक स्कूल में सुरक्षा गार्ड की नौकरी करती है.

गुरूवार शाम को आम दिनो की तरह घर जाने के लिए ऑटो के इंतजार में स्कूल के सामने खडी थी कि युवती का पूर्व परिचित एक ऑटो चालक अनुज तिवारी उर्फ विक्की ऑटो लेकर उसके पास पहुंचा और घूमने जाने का कहकर रावांभाठा के सुनसान इलाके में ले जाकर रेप किया और छोडकर फरार हो गया. युवती किसी तरह वापस अपने स्कूल के सामने आकर दुसरे आटो को संतोषी नगर जाने के लिए रोका तो आरोपी ऑटो चालक लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने 50 रूपये किराया लगने की बात कही तब पीडिता ऑटो में बैठ गई तभी ऑटो चालक लक्ष्मी ने स्कुल के पीछे से अपने एक दोस्त किशोर उपाध्याय को साथ लेकर रवाना हुआ.

आरोपी ऑटो चालक संतोषी नगर न जाकर उरला की तरफ मोड दिया और आरोपी किशोर ने चलते ऑटो में युवती के साथ रेप किया और देररात रिंगरोड स्थित श्रीराम ट्रांसपोर्ट के पास खडे ट्रक के पास ले गए जहां पहले से खडे दो आरोपी विनोद पटेल उर्फ कल्लू और रोहित तिवारी ने ऑटो चालक लक्ष्मी और उसके साथी किशोर के साथ चारो ने देररात तक गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया. घटना के 2 दिन बाद पीडिता खमतराई थाना पहुंची और अपने साथ हुई पूरी घटना को बताया ।

उसके बाद पुलिस ने गैंगरेप का मामला दर्ज कर पांच आरोपीं 2 ऑटो चालक और 3 ट्रक चालकों को गिरफ्तार किया । हालांकि इस पूरे मामले में प्ररभिक जांच में युवती की आंशिक सहमति भी दिखाई दे रही है. क्योंकि पुलिस चलती ऑटो में गैंगरेप की थ्योरी पचा नही पा रही है । हालांकि राजधानी में हुए इस गैंगरेप की घटना पूरे प्रदेश के लिए काफी शर्मनाक घटना मानी जा रही है.

Trending News

Related News