News

स्कूल है या खंडहर...? बच्चों के सिर पर मंडरा रही मौत

Last Modified - July 13, 2017, 7:00 pm

 

सतना जिले में शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे विकास के सरकारी दावे की पोल खुल गई है....जिले के 1 दो नहीं बल्कि 417 स्कूल खंडहर में बदल गए है...जिससे इन स्कूलों में पढ़ने वाले लगभग दस हजार से भी ज्यादा बच्चों के सिर पर मौत मंडरा रही है। इन खस्ताहाल स्कूलों की सुध लेने वाला कोई नहीं है.....स्कूल की हालत ऐसी है कि किसी की छतों में दरारें है....कहीं फर्श उखड़ी हुई है। 

वहीं बरसात के दिनों में छतों से लगातार पानी टपकने के कारण खतरा और भी बढ़ गया है.....ऐसे में सड़क किनारे स्कूल लगाए जा रहे है....और बरसात होने पर स्कूलों की छुट्टी कर दी जा रही है.....अभिभावकों की मजबूरी ये है कि बच्चों के भविष्य के लिए उन्हें पढ़ने के लिए स्कूल भेज रहे है.....और जिम्मेदार विभाग बजट का रोना रोकर आंखे मूंदा हुआ है।

Trending News

Related News