बस्तर News

बस्तर में सुरक्षा और सुविधाओं का भारी अभाव, घट रही है पर्यटकों की संख्या

Last Modified - July 15, 2017, 5:58 pm

बस्तर में बारिश के दौरान भी पर्यटक बड़ी तादाद में जगदलपुर पहुंचते हैं, हालाकि सुरक्षा, सुविधाओं, कनेक्टिविटी और नक्सल गतिविधियों के चलते टूरिजम पर असर पड़ता रहा हैं, साल 2014 में 86 विदेशी पर्यटक, जबकि 2015 में 67 और 2016 में 64 विदेशी पर्यटक बस्तर आये, जबकि 2016-17 के शुरूआत में करीब 96 हजार देशी-विदेशी पर्यटकों ने बस्तर घुमा, पर इस बारिश में पर्यटकों का कोई खास रूझान नहीं हैं.

सबसे बड़ी वजह है यहां सुरक्षा और सुविधाओं का बड़ा आभाव. बस्तर के पर्यटन स्थल सबसे खूबसूरत तो हैं, लेकिन इनके विकास पर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया गया, विभाग तो पर्यटको को सुविधाऐं देने और प्रचार प्रसार में कमजोर है ही। दूसरी तरफ वनविभाग भी प्रशासन भी इस ओर ध्यान नहीं देता, पर्यटन केन्द्रों पर ना मेडिकल सुविधा हैं, और ना सुरक्षा के बेहतर उपाय. यही वजह है, कि नक्सल हिंसा कम होने के बावजूद भी पर्यटकों की संख्या कम हुई है.

 

Trending News

Related News