भोपाल News

टॉयलेट की छत पर 'पाठशाला'

Last Modified - July 17, 2017, 11:20 am

अभी दो दिन ही हुए हैं, जब IBC24 ने ये दिखाया था कि किस तरह मध्यप्रदेश के एक सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल ने. टॉयलेट रूम को ही अपना कमरा बना लिया और यूरिन पॉट के ऊपर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की तस्वीरें लगा दी। अब जरा शिक्षा व्यवस्था और सरकारी स्कूलों की हालत बयान करने वाली एक और तस्वीर आई है श्योपुर से। जिसमें मासूम बच्चों को टॉयलेट के ऊपर छत पर बिठाकर क्लास लगाई जा रही है। मामला सोशल साइट पर तस्वीरें डालने के बाद सामने आया, जिसकी जांच के आदेश दे दिए गए हैं। 

ये तस्वीरें मध्यप्रदेश के श्योपुर के किला रोड स्थित गवर्नमेंट गर्ल्स स्कूल की हैं। जहां स्कूल की छत एक टॉयलेट की छत से जुड़ी हुई है। सिर्फ दो कमरों के इस स्कूल में पांच कक्षाएं लगती हैं और कुल 180 छात्राएं हैं। जाहिर है बैठने की जगह नहीं है, तो इस टॉयलेट के ऊपर की छत पर ही क्लास लगती है। नगर पालिका अध्यक्ष कहते हैं कि कई बार उन्होंने टोका, मगर स्कूल प्रबंधन नहीं मानता। 

स्थानीय लोगों का भी कहना है कि अक्सर वे खुद भी देखते हैं कि लड़कियां टॉयलेट की छत पर बैठकर पढ़ती रहती हैं। लेकिन मामले ने तब तूल पकड़ा, जब किसी ने टॉयलेट की छत पर लगने वाली क्लासरूम की ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर अपलोड कर दी। 

बवाल मचा, तो जिला शिक्षा अधिकारी ने तत्काल एक टीम गठित कर जांच के निर्देश दे दिए। लेकिन वे ये भी कह रहे हैं कि इस तस्वीर को फोटोशॉप से ट्रीट किया गया है। जांच और कार्रवाई का सिलसिला तो चलेगा. लेकिन इतना तो तय है कि श्योपुर ही नहीं, पूरे प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था बदहाल है।

Trending News

Related News