News

मप्र : भू-अभिलेखों में हेराफेरी होने पर तहसीलदार होंगे जिम्मेदार, निर्देश जारी

Last Modified - July 31, 2017, 7:45 pm

 

मध्यप्रदेश में भू-अभिलेखों में हेराफेरी के मामले पर सरकार सख्त नजर आ रही है... दरअसल देखा ये जा रहा था... कि अक्सर भू-अभिलेखों में हेरफेर के मामले में तहसीलदार...पटवारियों की गलती बताकर खुद को बचा लेथे थे... लेकिन अब जवाबदारी पूरी तरह से तहसीलदार की होगी... यदि किसी जमीन के रिकॉर्ड में हेराफेरी हुई... तो ये माना जाएगा कि तहसीलदार की सहमति से ही रिकार्ड में संशोधन किया गया... बता दें कि कंप्यूटरीकरण योजना के तहत किए जा रहे डिजिटाइलेजशन में पटवारी और आपरेटर के द्वारा जमीन के नक्शों के साथ छेड़छाड़ के कई मामले सामने आ चुके है... ऐसे में राजस्व विभाग ने जिला कलेक्टरों के माध्यम से तहसीलदारों को निर्देश जारी किया गया है कि वे यूजर आईडी और पासवर्ड गोपनीय रखें।

Trending News

Related News