News

सोनिया गांधी बोली, कुछ संगठनों ने किया था भारत छोड़ों आंदोलन का विरोध 

Last Modified - August 9, 2017, 7:56 pm

 

आज भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं वर्षगांठ है...और इस दिन को यादगार बनाने के लिए संसद के दोनों सदनों में  स्पेशल सेशन बुलाया गया....इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि...गांधीजी ने 1942 में कहा था कि पूर्ण स्वराज से कम कुछ भी मंजूर नहीं...आज हमारे पास गांधीजी जैसा नेतृत्व नहीं है...लेकिन कुछ अहम समस्याओं से देश को आजाद कराने का संकल्प लेना जरूरी है..मोदी ने सदन में बोलते हुए कहा कि- दुर्भाग्य से हमारे चरित्र में कुछ चीजें घुस गई हैं...आज देश में छोटी-छोटी घटना हिंसा बनती जा रही है...किसी मरीज की मौत हो जाती है...तो डॉक्टर को पीटते हैं...एक्सीडेंट हो गया तो ड्राइवर को मारते हैं....हमें लगता ही नहीं कि हम कानून तोड़ रहे हैं...इसलिए लीडरशिप की जिम्मेदारी होती है कि हम समाज के अंदर इन दोषों से मुक्ति दिलाकर कर्तव्य भाव को जगाएं...वहीं प्रधानमंत्री मोदी के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सदन में बोलते हुए इशारों-इशारों में संघ परिवार पर हमला बोला...सोनिया गांधी ने कहा कि...भारत छोड़ो आंदोलन का कुछ संगठनों ने का विरोध किया था...जिनका आजादी के आंदोलन में कोई भूमिका नहीं थी...सोनिया ने कहा कि...हमें आज भी ऐसे लोगों से लड़ना होगा।

Trending News

Related News