News

कलेक्टर के पैरों में मां, ये तस्वीर कुछ कहती है....

Last Modified - August 13, 2017, 3:26 pm

 

शनिवार को जबलपुर के जिला अस्पताल में एक महिला ने कलेक्टर के पैर पकड़ लिए और रो-रोकर अपनी बेटी को खोजने की गुहार लगाती रही, कलेक्टर के सामने ये बेबस मां फूट-फूट कर रोती रही, दरअसल ऊषा झारिया नाम की इस महिला के मुताबिक वो माढ़ोताल इलाके में रहती है  और आठ महीने पहले उसकी 13 साल की बेटी वंदना ना जाने कहां लापता हो गई..तब से वो पुलिस थानों के चक्कर लगा रही है लेकिन उसकी बच्ची नहीं मिली, बेटी के खो जाने के सदमे में बीमार हुई ऊषा को किसी समाजसेवी ने जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवा दिया था..जहां शनिवार की शाम जब कलेक्टर जिला अस्पताल पहुंचे तो ऊषा ने उनके पैर पकड़ लिए, इसके बाद कलेक्टर ने उसे पांच हजार रुपए की तुरंत आर्थिक सहायता देते हुए, उसकी बेटी को तलाशने के निर्देश भी दिए।

 

Trending News

Related News