News

गोटामार मेला : गांव वाले एक दूसरे पर बरसाते है पत्थर

Last Modified - August 22, 2017, 8:28 pm

 

छिंदवाड़ा के पांढुर्ना में हर साल पोला के दूसरे दिन होने वाले विश्व प्रसिद्ध गोटमार मेले में इस बार भी खूनी खेल की परंपरा जारी है.. सावरगांव और पांढ़ुर्ना के लोगों ने जाम नदी के दोनों छोरों से एक दूसरे पर जमकर पत्थर बरसाए.. जिसमें अब तक करीब 100 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है.. वहीं, इस बार लोगों का गुस्सा प्रशासन के खिलाफ भी नजर आया.. लोगों ने पुलिस पर पथराव के साथ ही एंबुलेंस में तोड़फोड़ कर दी।

दरअसल इस खूनी परंपरा को लेकर इस बार पुलिस प्रशासन ने सख्ती बरती है.. जिसमें पत्थरों को मेला स्थल से हटवाया गया था.. जिससे मेले में इस बार पत्थर मारने वालों की संख्या कम रही.. लेकिन पुलिस प्रशासन की इस कवायद के खिलाफ लोगों का गुस्सा देखा गया.. बता दें कि इस खूनी खेल की परंपरा को रोकने के लिए अब तक की सारी कोशिश नाकाम हुई है...और सालों से दो गांवों के लोगों का एक दूसरे पर पत्थर बरसाने का ये सिलसिला जारी है।

 

Trending News

Related News