News

तड़प रही पत्नी को नहीं बचा पाया तो मौत को लगाया गले

Last Modified - August 31, 2017, 7:08 pm

 

बेमेतरा में पत्नी की मौत से आहत जगदीश मनहरे नाम के इस शख्स ने खुद भी मौत को गले लगा लिया। उसने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उसने प्रशासन की लापरवाही और व्यवस्था से दुखी होकर खुदकुशी करने की बात लिखी है। दरअसल साजा ब्लॉक में संबलपुर गांव के रहने वाले जगदीश की पत्नी तीजन बाई की अचानक तबीयत खराब हो गई थी। जगदीश ने कई बार संजीवनी 108 को फोन किया लेकिन एंबुलेंस नहीं पहुंची और इलाज नहीं मिलने से उसकी पत्नी की तड़प-तड़प कर मौत हो गई। अब एंबुलेंस के नहीं पहुंचने पर सफाई दी जा रही है तो अधिकारी अफसोस जता रहे हैं। ये लापरवाही है या नहीं.. इसकी जांच की जाएगी.. 108 के जिला नोडल अधिकारी को भी कलेक्टर ने तबल किया है, लेकिन ये दो जिंदगियां वापस तो नहीं लौटेंगी. लिहाजा जरूरत है, सिस्टम सुधारा जाए सिर्फ अफसोस न जताया जाए, ताकि और जिंदगियां यूं ही बर्बाद ना हों।

Trending News

Related News