News

मालगाड़ी की बोगी से निकला सेना का गायब हुआ विस्फोटक, मचा हड़कंप

Last Modified - September 1, 2017, 8:59 am

 

कोरबा के कुसमुंडा थाना क्षेत्र के रेलवे साइडिंग में उस वक्त हड़कंप मच गया. जब SECL के कर्मियों ने कोयला लोडिंग होने आई मालगाड़ी की बोगी में बम की तरह दिखने वाली संदिग्ध वस्तु देखी. सूचना मिलने के बाद बम डिस्पोजल स्क्वॉड समेत तमाम अधिकारी मौके पर पहुंच गए और जांच में ये संदिग्ध सामान आर्मी का विस्फोटक निकला. जो कि झांसी के आसपास गायब हुआ था सवाल यही उठ रहा है कि ये एक्सप्लोसिव मालगाड़ी की बोगी में कैसे आया। 

जी हां, ये नजारा कोरबा के कुसमुंडा थाना क्षेत्र के SECL की रेलवे साइडिंग का है. जहां गुरुवार को कुसमुंडा पुलिस को SECL प्रबंधन की ओर से मालगाड़ी में बम होने की सूचना मिली. खबर से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. तुरंत मौके पर पुलिस और RPF की टीम पहुंची. मालगाड़ी को उस बोगी से अलग किया गया. जिसमें संदिग्ध वस्तु पड़ी थी. पुलिस को बम होने की आशंका हुई. तो बम डिस्पोजल स्क्वॉड को भी बुला लिया गया. इस टीम के साथ बिलासपुर से भी सुरक्षा अधिकारी मौके पर पहुंच गए और जब 20 से 22 किलो वजनी इस संदिग्ध वस्तु की पड़ताल की गई. तो ये आर्मी का एक्सप्लोसिव निकला.   

यहां पहुंचे तमाम अधिकारियों और जवानों ने तब राहत की सांस ली. जब बम डिस्पोजल स्क्वॉड ने इस विस्फोटक को न फटने वाला और सुरक्षित बताया. दरअसल आर्मी का ये PWP एक्सप्लोसिव मोर्टार में लॉन्च करने के बाद फायर किया जाता है और इससे फॉग निकलता है.. अब इस बात की जांच हो रही है कि विस्फोटक कोरबा पहुंचा कैसे. ये मालगाड़ी पंजाब की तरफ से आई है और बीती रात वैगन में कोयला भरा जा रहा था तभी संदिग्ध सामान के तौर पर ये विस्फोटक देखा गया. 

जानकारी के मुताबिक, नागपुर से पठानकोट 153 कैरियर एक्सप्लोसिव भेजे गए थे. लेकिन इनमें से एक कैरियर झांसी स्टेशन के आसपास गायब हो गया था. माना जा रहा है कि ये वही कैरियर है।  फिलहाल विस्फोटक को थाने में रखा गया है. लेकिन ये सवाल बना हुआ है कि विस्फोटक यहां कैसे पहुंचा. इसे कौन लाया और इसके पीछे मंसूबा क्या था?आया। 

Trending News

Related News