भोपाल News

कम बारिश से प्रदेश में फसलों को हुआ भारी नुकसान: गौरीशंकर बिसेन

Last Modified - September 5, 2017, 9:51 am

मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने स्वीकार किया है कि कम बारिश से प्रदेश में फसलों को भारी नुकसान हुआ है और इसका असर प्रदेश के कृषि उत्पादन पर पड़ेगा. सोमवार को मंत्रालय में कृषि कैबिनेट की बैठक में इस मसले पर भी विचार किया गया. बिसेन के मुताबिक सरकार ने 25 सितंबर तक सूखे की समीक्षा करने का फैसला लिया है। सरकार 25 सितंबर तक बारिश का आंकलन करेगी। कृषि मंत्री का ये भी दावा है, कि अगर सितंबर के बाद भी प्रदेश में सूखे के हालात बने रहते हैं तो सरकार किसानों की मदद के लिए पुख्ता प्लान तैयार करेगी। 

इसको लेकर सभी जिलों से रिपोर्ट 25 सितंबर तक आ जाएगी उसके बाद ही सरकार कोई फैसला लेगी। वहीं, कृषि कैबिनेट का मुख्य एजेंडा 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का ब्लूप्रिंट तैयार करना था। बैठक में कृषि और हार्टीकल्चर के पांच साल के रोड मैप पर भी चर्चा हुई.. बैठक में तय किया गया कि 15 सितंबर से 15 अक्टूबर तक प्रदेश के सभी ब्लॉक मुख्यालयों पर कृषि वैज्ञानिकों की कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी और स्थानीय स्तर से सुझाव जुटाएं जाएंगे. 11 सितंबर को फिर से कृषि कैबिनेट आयोजित करने का भी फैसला लिया गया।

 

Trending News

Related News