News

तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से नाखुश मुस्लिम बोर्ड, बताया धार्मिक भावनाओं पर चोट

Last Modified - September 11, 2017, 11:15 am

भोपाल। तीन तलाक पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद से ही इस पर बहस और अलग-अलग मत सामने आते रहे है। वहीं इस फैसले पर रविवार को हुई आॅल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लाॅ बोर्ड की बैठक में कहा गया की वह शरीयत में हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं करेगा। बोर्ड ने माना कि तीन तलाक गुनाह और शर्मनाक है। लेकिन बोर्ड सुप्रीम कोर्ट के फैसले से खुश नहीं है। यह एक प्रकार से हमारी धार्मिक भावनाओं पर चोट है। वैसे बैठक में कोई ठोस फैसला तो नहीं हुआ। हालांकि बोर्ड ने एक 10 सदस्यीय कमेंटी गठित करने का फैसला किया है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर रिव्यू पिटीशन दाखिल की जाएगी या नहीं इस सवाल का जवाब देने से कार्यसमिति के सदस्य बचते नजर आए। 

Trending News

Related News