News

व्यापमं का नाम बदला लेकिन फर्जीवाडे बदस्तूर जारी है, मोदी...शिवराज से शिकायत

Last Modified - September 26, 2017, 7:03 pm

अशोक नगर। व्यापमं का नाम तो बदल गया लेकिन फर्जीवाड़े का काम बदस्तूर जारी है...व्यपामं के अधिकारियों की मनमानी और फर्जीवाड़े का हर्जाना प्रदेश के सैंकडों परीक्षार्थियों को उठाना पड़ रहा है....परीक्षा में गड़बड़ी की शिकायत पीएम मोदी तक भी जा चुकी है इसके बाद भी व्यापमं के अधिकारियों की सेहत पर कोई फर्क पड़ता नहीं दिख रहा है...व्यापमं की गड़बड़ी से परेशान मध्यप्रदेश के अशोक नगर निवासी अभिषेक शर्मा ने उसके साथ हो रहे अन्याय की शिकायत ट्वीटर के जरिए पीएम मोदी और मध्पप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भी की.....लेकिन नतीजा अब तक सिफर ही साबित हुआ है....अभिषेक के मुताबिक व्यापमं के अधिकारियों से शिकायत के बाद भी उनके कान में जूं तक नहीं रेंगा....अभिषेक के मुताबिक उसने एएसआई की परीक्षा का फार्म भरा था...लेकिन अब जिम्मेदार कह रहे हैं कि उसे आरक्षक की परीक्षा देना पड़ेगी....अभिषेक की माने तो अब उसे सिर्फ पीएम मोदी से इंसाफ की उम्मीद है।

व्यापमं घोटाले के व्हिसिल ब्लोअर ने पुलिस पर लगाया प्रताड़ित करने का आरोप

इसे व्यापमं का प्रभाव ही कहेंगें कि मध्यप्रदेश के मंत्री भी ये कह रहे हैं कि अब जो हो गया उसे बदला नहीं जा सकता....स्कूल शिक्षा मंत्री दीपक जोशी के मुताबिक एक बार रोल नंबर निकलने के बाद वापस लेना मुश्किल हैं...हालाकि उन्होंने बचाव में ये जरूर कहा कि आगे ये गलती ना हो...साथ ही दोषी पर कार्रवाई की रणनीति बनाई जाएगी। मंत्री की तरह पीएचक्यू भी मजबूत नजर आ रहा है। 

व्यापमं घोटाला पार्ट 2, फिर सामने आने लगे मुन्नाभाई

आईजी इंटेलीजेंस मकरंद देउस्कर के मुताबिक मामला पीईबी से जुड़ा है इसमें पुलिस कुछ नहीं कर सकती। मध्यप्रदेश सरकार पर व्यापमं वो बदनुमा दाग है जिसे मिटा पाने में सरकार नाकाम है....इसके बाद भी सरकार सख्त एक्शन की वजह सिर्फ खाना पूर्ति करने में लगी है...और सरकार के इसी रवैए से युवाओं का भविष्य बर्बाद हो रहा है। सत्य विजय सिंह, भोपाल, IBC24 *कमेंट बाॅक्स में अपनी राय लिखना ना भूलें

व्यापमं से जुड़ी बैठकों का ब्यौरा सार्वजनिक करे मध्यप्रदेश सरकार - सूचना आयोग 

 

Trending News

Related News