News

GST मतलब गब्बर सिंह टैक्स- राहुल गांधी

Last Modified - October 23, 2017, 6:54 pm

 

गांधीनगर, गुजरात। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज गांधीनगर में नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने नवसृजन जनादेश महासम्मेलन में जीएसटी, नोटबंदी जैसे कदमों की आलोचना की। राहुल गांधी ने कहा कि इनकी जो जीएसटी है, ये जीएसटी नहीं है, ये है गब्बर सिंह टैक्स।

ये भी पढ़ें- अब राधे माँ भी आएंगी फिल्मों में नजर

राहुल गांधी ने कहा कि हम जो जीएसटी लाए थे, उसमें कारोबारियों की परेशानियों को दूर करने के प्रावधान किए गए थे, लेकिन मौजूदा सरकार ने एक भी बात नहीं मानी। कांग्रेस एक टैक्स लगाने की पक्षधर थी, लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार पांच-पांच टैक्स लेकर आ गई।

ये भी पढ़ें- “गाली से, न गोली से समाधान निकलेगा बोली से” साकार होगा- राजनाथ सिंह

कांग्रेस जीएसटी की उच्चतम सीमा 18 फीसदी लगाने की मांग कर रही थी, बीजेपी सरकार ने ये मांग भी ठुकरा दी। अब नतीजा ये है कि जीएसटी से कारोबारी परेशान होकर घूम रहे हैं, बिज़नेस ठप हो गया है और जीएसटी कारोबारियों में गब्बर सिंह की तरह खौफ टैक्स बन गया है।

ये भी पढ़ें- दिल्ली के 4 रेलवे स्टेशन पर NGT ने लगाया जुर्माना

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने अपने भाषण के दौरान नोटबंदी की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा पर भी तंज कसा। राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी ने रातों-रात नोटबंदी लागू कर देश पर कुल्हाड़ी मार दी.

ये भी पढ़ें-  नरेंद्र पटेल ने बीजेपी पर लगाया 1 करोड़ की पेशकश देने का आरोप

मोदी जी ने नोटबंदी नाकाम होने पर अपने लिए सजा मांगी थी और नोटबंदी इस तरह फेल हुई कि पूरे हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था को नोटबंदी के जरिए चौपट कर दिया गया। राहुल गांधी ने कहा- प्रधानमंत्री ने ये कहा कि उन्हें 500 और 1000 के नोट पसंद नहीं हैं, इसलिए रात 12 बजे से इसे बंद कर रहे हैं...हाहाहा।‘ 

वीडियो देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- https://twitter.com/IBC24News/status/922435947882471424

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी अपने मन की बात करते हैं, लेकिन आज मैं उन्हें गुजरात के लोगों के मन की बात सुनाना चाहता हूं। राहुल गांधी ने बीजेपी को चुनौती दी कि पूरे देश का बजट लगा दें, पूरी दुनिया का पैसा लगा दें, गुजरात की आवाज़ को दबाया नहीं जा सकता।

 22 साल से गुजरात में जनता की नहीं, बल्कि 5-10 उद्योगपतियों की सरकार चल रही है, इसलिए गुजरात के समाज का हर तबका आंदोलन का हिस्सा है। नैनो बनाने के लिए एक कंपनी को 30-35 हज़ार करोड़ दिए, इतने में गुजरात के किसान का कर्ज माफ हो जाता मगर आपने इनकी आवाज़ नहीं सुनी। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि जब आप सेल्फी लेते हैं और इसके लिए बटन क्लिक करते हैं तो हर बार एक चीनी युवक को रोजगार मिलता है।

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News