भोपाल News

भोपाल गैंगरेप केस में SIT गठित, फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई

Created at - November 2, 2017, 5:06 pm
Modified at - November 3, 2017, 5:15 pm

भोपाल गैंगरेप केस में SIT गठित कर दिया गया है, मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई होनी की जानकारी दी. 

ये भी पढ़ेंभोपाल गैंगरेप पीड़िता की जुबानी वहशियत की कहानी

आपको बतादें इस मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार हुए हैं. चौथे आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी की जा रही है. वहीं इस मामले में ढिलाई बरतने वाले तीन पुलिसवाले को सस्पेंड किया गया है. टीआई हेमेंत श्रीवास्तव इस केस के इंचार्ज होंगे और डीआईजी सुधीर लाड हर रोज नियमित इस मामले की समीक्षा करेंगे.

जाने पूरा मामला-

 

 

भोपाल में UPSC की कोचिंग कर रही एक छात्रा से 31 अक्टूबर को कोचिंग से अपने घर जाने के लिये ट्रैक से होकर रेलवे स्टेशन जा रही थी. तभी वहशियों ने लड़की के साथ बारी-बारी से गैंगरेप किया. पीड़ित छात्रा विदिशा की रहने वाली है.

ये भी पढ़ें- मध्यप्रदेश में 10 साल से कम उम्र की बच्ची से रेप पर होगी फांसी की सज़ा

पीड़ित छात्रा को क्या पता था कि रास्ते में उसका सामना नशे में चूर चार दरिंदों से होने वाला है. अचानक चार दरिंदों ने उसे घेर लिया और धमकाते हुए बारी बारी से उस मासूम को अपनी हवस का शिकार बनाया. 

ये भी पढ़ें- सेना भर्ती के दौरान युवकों ने महिलाओं के साथ की अभद्रता

दरिंदों की हवस तले रौंदे जाने के बाद पीड़ित छात्रा ने अपने परिवारवालों को आपबीती सुनायी. जिसे सुनकर वो बेहद घबरा गये. परिजन की माने तो भोपाल पहुंचकर वो पीड़ित को लेकर एमपी नगर थाना पहुंचे था जहां से उन्हें भगा दिया गया और हबीबगंज थाना जाने को कहा गया. 

ये भी पढ़ें- महिला ने लाश के साथ छह दिन गुजारे

इसके बाद वो हबीबगंज थाना पहुंचे लेकिन यहां की पुलिस ने भी रेप केस दर्ज नहीं किया और GRP थाना जाने को कहा. पुलिस की संवेदनहीनता झेलते हुए परिजन GRP थाना पहुंचे जहां GRP ने चारों हैवानों के खिलाफ केस दर्ज किया. जिसके बाद लापरवाही बरतने वाले तीन पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया गया.

ये भी पढ़ें- गोवा महिलाओं के लिए सबसे सुरक्षित, बिहार सबसे असुरक्षित

मौका-ए-वारदात का जायजा लेकर आरोपियों की तलाश शुरू की तो सागर का रहने वाला एक आरोपी उसके हत्थे चढ़ गया. आरोपी के खिलाफ पहले से भी हत्या का एक केस है.अब तक मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया. चौथे आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है.

ये भी पढ़ें- NTPC हादसा : 26 की मौत, राहुल ने जाना घायलों का हाल, PM-CM ने की मुआवजे की घोषणा

गैंगरेप की इस वारदात के बाद राजधानी भोपाल में लड़कियों की सुरक्षा पर सवाल उठने लगे हैं. सवाल ये है कि RPF की पेट्रोलिंग पार्टी उस वक्त कहां थी जब स्टेशन के पास चार दरिंदे एक मासूम को रौंद रहे थे. 

ये भी पढ़ें- स्टेशन पर एनाकोंडा ! वायरल हुआ वीडियो, अफसरों ने कहा-हमें नहीं पता 

गैंगरेप की इस मामले के बाद एमपी नगर थाना और हबीबगंज थाने की लापरवाही पर पुलिस मुख्यालय नाराज़ होकर DIG क्राइम अगेंस्ट वीमेन सुधीर लाड़ को जांच की जिम्मेदारी है.

ये भी पढ़ें- अधपकी रह गई खिचड़ी, हरसिमरत कौर ने बताया ख्याली पुलाव

IBC24 पर खबर दिखाये जाने के बाद महिला आयोग ने लिया है, महिला आयोग की अध्यक्ष लता वानखेड़े ने वारदात को काफी दुर्भाग्यपूर्ण और गंभीर बताया है. साथ ही पुलिस को इस मामले में आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है. 

 

 

नवीन कुमार सिंह, IBC24, भोपाल


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News