रायपुर News

हाईकोर्ट के शरण में पत्रकार विनोद वर्मा

Last Modified - November 10, 2017, 11:31 am

रायपुर। लोवर और सेशन कोर्ट में जमानत याचिका खारिज होने के बाद कथित अश्लील CD कांड के आरोपी विनोद वर्मा ने हाईकोर्ट में जमानत याचिका लगाई है । इसके लिए आर्डर की कापी भी बचाव पक्ष के बचाव पक्ष के वकील ने ले ली है ।

ये भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के फैसले की कॉपी हिंदी में भी मिलेगी

 

ये भी पढ़ें- सेक्स सीडी कांड : विनोद वर्मा को नहीं मिली जमानत

वकील और विनोद वर्मा के घरवालों ने इस पूरे मामले में रायपुर पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खड़ा किया है । उनका कहना है कि पुलिस ने विनोद वर्मा पर प्रकाश बजाज को धमकाने और 500 अश्लील सीडी रखने का चार्ज लगाया है. 

 

ये भी पढ़ें- 18 की उम्र कर ली पार, तो ये ख़बर ज़रुर पढ़ें

जबकि पुलिस ने खुद ही कोर्ट को जानकारी दी है कि प्रकाश बजाज के पास दिल्ली के गीतानगर के इशू नारंग का कॉल आया था. ऐसे में सवाल उठता है कि जब काल इशू नारंग ने किया तो विनोद वर्मा ने प्रकाश को कब और कैसे धमकाया. इसका जवाब पुलिस के पास नहीं है.

 

ये भी पढ़ें- पुलिस पर पिनके पुनिया, बोले- सालभर बाद नहीं रहेगी भाजपा सरकार

वहीं विनोद वर्मा के पास से पुलिस ने 500 सीडी कब और कहाँ से जब्त की. इसका भी कोई साक्ष्य पुलिस. कोर्ट में पेश नहीं कर पाई है. वकील का कहना है कि विनोद वर्मा ने एडिटर गिल्ट के कहने पर बस्तर का दौरा कर एक रिपोर्ट तैयार की है.

ये भी पढ़ें- रायपुर के दिव्यांग विजय के सपनों को आईएएस अफसर ने दी उड़ान

जो बस्तर पुलिस से खिलाफ है. इस वजह से उसे प्लान कर फंसाया गया है. बचाव पक्ष के वकील के मुताबिक इन्हीं सब दलीलों को सामने रख कर वे हाईकोर्ट से विनोद वर्मा के जमानत की गुजारिश करेंगे ।

 ये भी पढ़ें- मंगल का दंगल, भारतीय भी अखाड़े में !  

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News