News

ग्वालियर में बनेगा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का मंदिर 

Last Modified - November 10, 2017, 5:47 pm

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारें नाथूराम गोडसे का मंदिर अब ग्वालियर में बनाया जाएगा। अखिल भारतीय हिन्दू महासभा ने इसको लेकर ऐलान भी कर दिया है। साथ ही मंदिर कमेटी का गठन कर प्रशासन से जमीन मांगने की कवायद भी शुरू कर दी। लेकिन जब उसे प्रशासन ने जमीन देने से इंकार कर दिया। तो फिर अब महासभा अपने ही कार्यालय में गोडसे का मंदिर बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। जिसको लेकर कांग्रेस ने हिंदू महासभा के साथ ही बीजेपी को आड़े हाथों लिया है।

अपनी पहली रैली में दहाडे मुकुल राॅय बोले, 2019 में बंगाल में भाजपा की सरकार

अखिल भारतीय हिंदू महासभा ने ग्वालियर में एक बार फिर आग में घी डालने का काम किया है। महासभा ने ग्वालियर में मंदिर निर्माण की शुरुवात के लिए 15 नंवबर की तारीख तय की है। महासभा भारत माता के साथ नाथूराम गोडसे की प्रतिमा भी स्थापित करेंगी। वहीं मन्दिर निर्माण के लिये जिला प्रशासन से जमीन मांगी थी। लेकिन जब अनुमति नही मिली तो, वह अब महासभा के दौलतगंज स्थित कार्यालय में मंदिर बनवाने की तैयारी कर रही है।

दिल्ली वालों के अच्छे दिन, ऑड ईवन में DTC बसों में मुफ्त सफर

महात्मा गांधी के हत्यारें नाथूराम गोड़से का मंदिर ग्वालियर में बनाएं जाने की खबर जैसे ही कांग्रेस के पास पहुंची। तो उसे बैठे बिठाए नया मुद्दा मिल गया। कांग्रेस के मुताबिक हिंदू महासभा, आरएसएस और बीजेपी का ही हिस्सा है। जो अब राष्ट्रपिता के हत्यारें का मंदिर बनाने की बात कर रही है। कांग्रेस ने साफ कहा है कि अगर मंदिर के नाम पर एक ईंट भी रखी गयी, तो कांग्रेस सड़कों पर प्रदर्शन करेंगी। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या को लेकर हिंदू महासभा का तर्क है कि नाथूराम गोडसे देशभक्त था और उसने देशद्रोह का अपराध करने की वजह से ही महात्मा गांधी की हत्या (जिसे वो वध की संज्ञा देता है) की थी। महासभा का ये तर्क आजतक किसी के गले नही उतरा है, इतना ही नहीं उनके इस तर्क को लोग पागलपन तक करार देते रहें है। 

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News