News

पद्मावती पर अब दीपिका पादुकोण-सुब्रण्यम स्वामी भिड़े

Last Modified - November 15, 2017, 4:52 pm

संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ बॉक्स ऑफिस पर कोई नया रिकॉर्ड बना पाएगी या नहीं, ये तो इसके रिलीज होने के बाद ही पता चलेगा, लेकिन विवादों के मामले में ये फिल्म ज़रूर रिकॉर्ड बना रही है। इस फिल्म को लेकर देश के अलग-अलग राज्यों, शहरों में लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। अदालतों तक में इस फिल्म के प्रदर्शन पर रोक को लेकर याचिका लगाई जा चुकी है। केंद्रीय मंत्रियों से लेकर राज्यों के मंत्रियों और सांसदों से लेकर विधायकों तक की बयानबाज़ी हो रही है, अब इसे लेकर फिल्म की नायिका दीपिका पादुकोण और भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी भी आमने-सामने आ गए हैं।

ये भी पढ़ें- पद्मावती' के विरोध में बीजेपी नेता भी कूदे

दीपिका पादुकोण और सुब्रमण्यम स्वामी के बीच क्यों हुई भिड़ंत, अब हम आपको इसके बारे में बताते हैं। इस फिल्म के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को देखते हुए दीपिका ने सवाल उठाया कि एक राष्ट्र के रूप में हम कहां पहुंच गए हैं? दीपिका ने विरोध प्रदर्शनों को डरावना बताया और कहा कि हम आगे बढ़ने के बदले पीछे जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें- भंसाली की पद्मावती पर उमा भारती का खुला ख़त

पद्मावती की भूमिका निभा रही अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने ये भी कहा कि इस फिल्म के प्रदर्शन को कोई नहीं रोक सकता। दीपिका ने कहा कि फिल्म निर्माण से जुड़ी टीम की जवाबदेही सिर्फ सेंसर बोर्ड के प्रति है। दीपिका ने इस फिल्म का हिस्सा बनने पर गर्व जताते हुए कहा कि एक महिला के रूप में इस कहानी को दुनिया के सामने लाना बड़ी खुशी की बात है।

ये भी पढ़ें- पद्मावती का एक दिल, एक जान सांग रिलीज

दीपिका ने जब कहा कि हम आगे बढ़ने के बदले पीछे जा रहे हैं, तो जवाबी हमले के लिए भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी मैदान में उतर आए। स्वामी ने कहा कि दीपिका पादुकोण पिछड़ेपन पर हमें लेक्चर दे रही है जबकि दीपिका के बयान से लगता है कि वो पढ़ी-लिखी नहीं हैं। सुब्रमण्यम स्वामी ने दीपिका पादुकोण को फिर से पढ़ाई शुरू करने की नसीहत भी दे डाली। स्वामी ने सवाल उठाया कि किसी एक फिल्म की रिलीज रुकने का मतलब ये कैसे निकाला जा सकता है कि हमारा देश पीछे जा रहा है? स्वामी यहीं नहीं थमे, उन्होंने दीपिका पादुकोण की भारत की नागरिकता को लेकर भी सवाल किया कि वो यहां की नागरिक हैं भी या नहीं, ये नहीं पता। 

ये भी पढ़ें- विवादों में घिरी पद्मावती का घूमर के बाद एक दिल, एक जान सॉन्ग रिलीज 

इस बीच, राजस्थान के कोटा में पद्मावती का ट्रेलर दिखाए जाने से गुस्साए करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने सिनेमाहॉल में तोड़फोड़ की, जिसके बाद 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी पहले ही ये साफ कर चुकी हैं कि पद्मावती के प्रदर्शन में किसी तरह की रुकावट नहीं होने दी जाएगी।

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News