रायपुर News

संस्कृति विभाग पर लोक कलाकारों की उपेक्षा का आरोप

Last Modified - November 16, 2017, 3:23 pm

छत्तीसगढ़ के संस्कृति विभाग पर लोक कलाकारों की उपेक्षा के गंभीर आरोप लगे हैं। दरअसल संस्कृति विभाग ने पिछले 2 साल से कई लोक कलाकारों को भुगतान ही नहीं किया है। वहीं अधिकारी फंड का रोना रो रहे हैं।

ये भ पड़े- 500 करोड़ क्लब की महारानी बनी जैकलीन फर्नांडीज

ये छत्तीसगढ़ की मशहूर लोक गायिका सीमा कौशिक हैं। सीमा की मानें तो उन्हे संस्कृति विभाग से 35 लाख रुपए लेने हैं, लेकिन कई बार चक्कर लगाने के बाद भी फूटी कौड़ी तक नहीं मिली है। अकेली सीमा कौशिक ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ के दर्जनों छोटे-बड़े लोक कलाकारों को संस्कृति विभाग ने पिछले 2 साल से भुगतान ही नहीं किया है। लिहाज़ा कई बड़े कलाकार अब विभाग के कार्यक्रम से ही दूरी बना रहे हैं। वहीं अधिकारी बजट की कमी से भुगतान नहीं होने की दलील दे रहे हैं। 

ये भी पढ़ें- मैं लिखता हूं, इसलिए जवानी मेरी है – अमिताभ बच्चन

 

बड़ी पार्टियों के लोक कलाकार किसी तरह कर्ज़ लेकर अपने सहयोगी कलाकारों को पैसा दे रहे हैं, लेकिन प्रदेश समेत दूसरे राज्यों में छत्तीसगढ़ी संस्कृति की छटा बिखरने वाले कई लोक कलाकारों की आर्थिक स्थिति बेहद ख़राब है। लिहाज़ा कलाकारों को वक्त पर भुगतान और सम्मान दिए जाने की ज़रूरत है, ताकि उनकी हौसलाअफज़ाई भी हो और आर्थिक स्थिति भी न बिगड़े। 

ये भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ में पैठ जमा रहा पाक खुफिया एजेंसी ISI, जांजगीर से हो रही थी जड़े मजबूत

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News