News

इमेजन ही नहीं कर सकता कि परिवार टॉयलेट के लिए परेशान हो-अक्षय कुमार

Last Modified - November 20, 2017, 12:28 pm

 संयुक्त राष्ट्र के अनुसार विश्व की अनुमानि ढाई अरब आबादी को पर्याप्त स्वच्छता सुविधाएं नहीं मिलती हैं. जिनमे से आधे से अधिक लोग भारत में रहते हैं। जिसके चलते बीमारियां उत्पन्न होने के साथ साथ पर्यावरण भी दूषित होता है. इस समस्या को खत्म करने के लिए सरकार स्वच्छ भारत अभियान चला रही है. कल विश्व शौचालय दिवस मनाया गया बॉलिवुड फिल्म स्टार अक्षय कुमार  भी इस अभियान में भागीदारी निभा रहे हैं जहां उनकी फिल्में इस मुद्दे पर रहती हैं तो वहीं वो खुद भी आगे बढ़कर इन मुद्दों पर अपनी बात रखते हैं.

 


जब अक्षय से पूछा गया कि आज वर्ल्ड टॉयलेट डे है, क्या आपको लगता है कि किसी भी काम  के लिए कोई एक दिन डिसाइड करना ठीक है? अक्षय ने कहा कि मुझे नहीं लगता है कि किसी भी काम को कोई एक खास दिन देना बुरा है। लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि बाकी दिन हम उस कॉज को भूल जाएं। इनफैक्ट हमे इस दिन की सबसे ज्यादा जरूरत है। आवाज उठाए जाने की जरूरत है और सिर्फ आवाज नहीं बल्कि अब खुद कुछ करने की जरूरत है। किसी को भी अब टॉयलेट के लिए परेशान नहीं होना चाहिए। मतलब मैं तो इमेजन ही नहीं कर सकता कि मेरा परिवार टॉयलेट के लिए परेशान हो। सिर्फ मेरा क्या किसी का परिवार इसके लिए परेशान नहीं होना चाहिए।

Trending News

Related News