उज्जैन News

भावांतर योजना: बस एक क्लिक में 135 करोड़ की राशि का भुगतान

Last Modified - November 23, 2017, 3:55 pm

 

उज्जैन में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भावांतर योजना में रजिस्टर्ड किसानों को चेक वितरण किया...इस मौके पर सीएम शिवराज ने प्रदेश में किसान तबाह नहीं होंगे..लेकिन इसके उलट इंदौर और अशोकनगर में भावांतर को लेकर दूसरी तस्वीर दिखाई दी..

 

 

 

ये दृश्य है उज्जैन के किसान महासम्मेलन का. जहां सीएम शिवराज ने किसानों के खाते में भावांतर योजना के तहत 135 करोड़ राशि बांटी. इस कार्यक्रम में 13 जिलों के किसानों को प्रमाण पत्र भी बांटे गए. सम्मेलन में सीएम शिवराज ने किसानों के साथ खड़े होने की बात कही. सीएम शिवराज के मुताबिक दूसरे राज्य भी भावांतर योजना का अनुसरण करेंगे. वहीं उन्होंने भावांतर का विरोध कर रही कांग्रेस को भी घेरा

 

एक तरफ उज्जैन में किसानों को चेक बंट रहे थे तो दूसरे तरफ इंदौर के किसान मायूस थे..क्योंकि जिले में केवल 20 फीसदी किसानों का ही पंजीयन हो पाया है. जिससे किसानों को योजना का लाभ नहीं मिला. लिहाजा अब मंडी प्रभारियों से जवाब मांगा गया है.वहीं भावांतर को लेकर अशोकनगर गल्ला मंडी में जमकर हंगामा हुआ. प्रशासन ने उज्जैन की सीएम सभा का लाइव प्रसारण का इंतजाम किया था.

ये भी पढ़ें- विधवा मां की तीन बेटियां एक साथ बनीं RAS, भाई बोला अब IAS बनो

लाइव के दौरान कुछ लोग मौके पर पहुंच गए और सीएम के पोस्टर फाड़ते हुए कुर्सियां तोड़ी. प्रशासन की माने तो हंगामा करने वाले लोग किसान नहीं उपद्रवी थे. जिनकी पहचान कर ली गई है. भावांतर योजना को लेकर शुरु से ही सरकार पशोपेश में हैं. जहां कई जगहों पर पंजीयन पूरा नहीं हो पाया है वहीं दूसरी तरफ किसानों को चेक से नहीं नकदी की आस है. ऐसे में भीड़ इकट्ठा करके भावांतर की वाहवाही लूट रही सरकार के लिए किसानों को खुश करना चुनौती होगी.

 

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

 

 

Trending News

Related News