सरगुजा News

शिक्षाकर्मी दूल्हा बैठा हड़ताल में ,बरातियों ने लगाए नारे

Last Modified - November 23, 2017, 6:36 pm

छत्तीसगढ़ में शिक्षाकर्मी की हड़ताल का क्या परिणाम होगा ये तो आगे देखने के बाद ही पता चलेगा। जिस तरह से सरकार का रवैया  उनके प्रति सख्त दिख रहा है उससे तो ये साफ नज़र आ रहा है कि झुकना तो शिक्षाकर्मी  को ही पड़ेगा क्योकि सरकार अब किसी समझौते के लिए तैयार नहीं दिख रही है उल्टा अब शिक्षाकर्मी को नोटिस दी जा रही है की वे काम पर तीन दिन के अंदर लौटे। इसी बीच सरगुजा का एक दुल्हा पुरे छत्तीसगढ़ में चर्चा का विषय है जो अचानक गाजे-बाजे के साथ सूटबूट में धरना स्थल पहुचा. यहां पर वह जमीन पर बैठ गया और हड़ताल शुरू कर दी.जिसे देखकर राह गिर भी एक मिनट के लिए रुक गए की ये धरना स्थल है या विवाह स्थल।

 इसे भी पढ़े-शिक्षाकर्मियों की हड़ताल के ज़रिए राजनीति चमका रहे राजनेता

दरअसल  दुल्हा बने ये व्यक्ति  मैनपाट ब्लॉक में शिक्षाकर्मी है. जिनका  नाम कमलेश सिंह है और कल उनकी बारात निकल रही थी.जब उन्होंने अपनी बारात में पीछे मुड़कर देखा तो उनके  कई साथी शामिल नहीं हुए थे वजह थी हड़ताल . इस बात का कमलेश को अफसोस हुआ  और यही कारण है कि वह बारात लेकर ​निकलने से पहले धरना स्थल पर पहुंच गए जहा उन्होंने अपनी साथियों के साथ हड़ताल का पूर्ण समर्थन किया अपनी मांगो को लेकर सरकार के खिलाफ धरना दिया. और फिर वहां से वे निकल गए अपनी दुल्हनियां लाने .

 इसे भी पढ़े-छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग ने जारी की चुनाव की तारीख़

 

Trending News

Related News