News

नरबलि मामला: पिता ने अंधविश्वास में बेटे का गुप्तांग काट चढ़ा दी बलि

Last Modified - November 28, 2017, 12:33 pm

उसे लगता था कि उसके घर मे भूतों का साया है। उसके घर में आये दिन घटने वाली घटनाओं से वो इतना परेशान हो गया कि उसने अपने ही बडे बेटे की बलि चढ़ा दी। वो बेटा जो अपनी मां का लाडला था, वो बेटा बुढ़ापे में उनका सहारा बनाता। लेकिन उस बाप ने अपने बेटे की बलि चढ़ाई तो इतनी बेरहमी से कि कलयुग में घटने वाली सारी घटनाएं इस मानव बलि के सामने छोटी पड़ जाए। बलौदाबाजार जिले के अमेरा में हुई एक 13 साल के बच्चे की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है, और जब इस मामले का खुलासा हुआ तो मामला हत्या का नहीं बल्कि नर बलि का निकला।

बलौदाबाजार के अमेरा गांव में शनिवार को एक 13 साल के मासूम रूपेश पटेल की लाश घर के आंगन में खून से लतपथ हालत में मिली थी, जिस वक्त इस घटना को अंजाम दिया गया था उस वक्त बच्चे का बाप घर पर ही मौजूद था। जांच पर पहुंची पुलिस की शक की सुई शुरू से ही रूपेश के पिता पर थी और पुलिस का शक उस वक्त यकीन में बदल गया जब रूपेश की मां ने ये कह दिया कि उसके बच्चे को किसी इंसान ने नही बल्कि भूत ने ही मारा है, जांच पर पहुंची पुलिस क्राइम ब्रांच और फोरेंसिक की टीम को मोके पर हत्या में उपयोग किया गया धारदार हथियार हसिया घर में ही मिला और फॉरेन्सिक ने इसकी जांच की तो इसमें मृतक रूपेश के बाप के उंगलियों के निशान मिले जिसके बाद पुलिस ने आरोपी पिता को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो वो टूट गया और हत्या करना कबूल लिया। 

पहले युवती से रेप कर बनाया अश्लील वीडियो, फिर पति को भेजा

आरोपी पिता की माने तो उसने अपने बड़े बच्चे कि बलि एक बैगा के कहने पर चढ़ाई थी जिससे उसके घर में घट रही घटनायें थम जाएंगी, दरअसल आरोपी को और उसके घर वालों को लगता था कि उसके घर में किसी बुरी आत्मा का साया है जो आये दिन इन लोगों को परेशान करती थी और इस साल की नवरात्रि के बाद से घर मे घट रही घटनाएं बढ़ गयी थी 

जिसके बाद आरोपी पिता लगातार घर में एक बैगा से पूजा पाठ करवाता था लेकिन घर में घट रही घटनाये थमने का नाम नहीं ले रही थी जिसके बाद बैगा ने आरोपी को अपने बड़े बेटे की बलि चढ़ाने को कहा जिससे घर में घट रही घटनाएं थम जाएगी। 

दो युवतियों के साथ सात युवकों को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा

जिसके बाद से आरोपी मौके की तलाश में था और शनिवार को घर के सभी सदस्य खेत में काम करने गए थे तो आरोपी ने घर में ही अपने बच्चे को पहले पटक पटक कर मारा और उसके बाद गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और तांत्रिक के बताए अनुसार अपने बच्चे के गुप्तांग को हासिये से काट कर अलग कर दिया।  मामले की गंभीरता और मृतक की मां के बयान के आधार पर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए 48 घंटे में ही हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया, और आरोपी पिता और बलि चढ़ाने को उकसाने वाले बैगा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

 

वेब डेस्क, IBC24

Trending News

Related News