रायपुर News

शिक्षाकर्मियों का आंदोलन हुआ उग्र, आज से क्रमिक भूख हड़ताल

Created at - November 29, 2017, 9:57 am
Modified at - November 29, 2017, 9:57 am

रायपुर शिक्षाकर्मियों की हड़ताल का आज दसवां दिन है, इससे पहले नौवें दिन भी शिक्षाकर्मी हड़ताल में डटे रहे। सभी संगठनों की बैठक में आज से ब्लाक मुख्यालयों में क्रमिक भूख हड़ताल शुरू करने का फैसला लिया है इधर, रायपुर और दुर्ग में 6 और शिक्षाकर्मी बर्खास्त कर दिए गए. वहीं एक बर्खास्त शिक्षाकर्मी याचिका लेकर हाईकोर्ट पहुंच गया । इन सबके बीच मुख्यमंत्री ने कहा है कि बातचीत के रास्ते हमारी ओर से हमेशा खुले हैं। 

ये भी पढ़ें- कोरबा को मिलेगा नया ऑयल टर्मिनल और एलपीजी बॉटलिंग प्लांट

ये भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ के 6 शहरों में आतिशबाजी बैन

छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मी अपनी मांगों को लेकर नौवें दिन भी धरनास्थल पर डटे रहे। साथ ही हड़ताल में शामिल सभी शिक्षाकर्मी संगठनों की रायपुर में हुई बैठक में ये फैसला भी हुआ कि उनकी लड़ाई आगे भी जारी रहेगी। दो दिसंबर को शिक्षाकर्मी अपने परिजनों के साथ रायपुर पहुंचकर संविलियन रैली भी निकालेंगे।

ये भी पढ़ें- शादीशुदा महिला शिक्षक अपने छात्र के साथ बनाती थी शारीरिक संबंध, ऐसे हुआ खुलासा

वहीं बिलासपुर के मस्तूरी विकासखंड के स्कूल में पदस्थ शिक्षाकर्मी भागवत प्रसाद भैना की हार्ट अटैक से मौत हो गई। पहले से बीमार चल रहे भागवत प्रसाद कोरबा में इलाज करा रहे थे। बताया जा रहा है कि हाल ही में अपना तबादला कराने वाले भागवत प्रसाद ने जब ये सुना कि तबादले रद्द हो जाएंगे, तो हार्ट अटैक से उसकी मौत हो गई। 

ये भी पढ़ें- मॉडल ने नए अंदाज में किया एक्सरसाइज...

इधर, शिक्षाकर्मियों की हड़ताल का मामला अब बिलासपुर हाईकोर्ट भी पहुंच गया है। हड़ताल में शामिल होने की वजह से बर्खास्त शिक्षाकर्मी हरीश दीवान ने सरकार के इस आदेश के खिलाफ पहली याचिका बिलासपुर हाईकोर्ट में दाखिल की। इस बीच अब तक सख्त तेवर दिखा रहे मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि हमारी ओर से बातचीत के रास्ते खुले हैं । वहीं पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर ने हड़ताल को शिक्षाकर्मियों का उनका पुराना हथकंडा बताया । उन्होंने भी साफ कहा कि संविलियन किसी भी स्थिति में नहीं हो सकता। 

ये भी पढ़ें-मध्यप्रदेश विधानसभा के शीतकालीन सत्र का दूसरा दिन, जानिए क्या रहा खास

इस बीच रायपुर जिला पंचायत के CEO ने चार और शिक्षाकर्मियों को बर्खास्त कर दिया है । वहीं रायपुर के अलावा बिलासपुर, अंबिकापुर, रायगढ़, कोरबा, जगदलपुर, दुर्ग, धमतरी, महासमुंद, राजनांदगांव समेत सभी जिलों में शिक्षाकर्मियों का प्रदर्शन जारी रहा। कहीं प्रदर्शनकारियों ने रैली निकाली, तो कहीं भजन-कीर्तन करते रहे।

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News