भोपाल News

भोपाल गैस पीड़ित विधवाओं को मिलेगा 1 हजार रुपए मासिक पेंशन

Last Modified - December 3, 2017, 5:58 pm

भोपाल। गैस पीड़ित विधवा महिलाओं को लेकर प्रदेश सरकार ने बड़ा एलान किया है. पीड़ित महिलाओं को सरकार अब फिर से एक हजार रुपए मासिक पेंशन देने का फैसला लिया है. सीएम शिवराज ने आश्वासन दिया है कि गैस पीड़ितों के पुनर्वास के लिए समुचित उपाए किए जाएंगे.

 

 

 

ये भी पढ़ें- वो जहरीली रात जिसने हजारों लोगों को मौत की नींद सुलाई..

विश्व की सबसे बड़े औद्योगिक त्रासदी में शुमार भोपाल गैस कांड के 33 साल बाद भी यूनियन कार्बाइड कारखाने में 346 टन जहरीला कचरा मौजूद है। इसे नष्ट करने का निर्णय ही नहीं हो पा रहा है। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर इंदौर के पास पीथमपुर में 10 टन कचरे का निष्पादन प्रयोग के बतौर किया गया, लेकिन इस कवायद का पर्यावरण पर कितना दुष्प्रभाव हुआ इसकी रिपोर्ट का खुलासा होना बाकी है। बचे हुए जहरीले कचरे को कैसे ठिकाने लगाया जाए, इसे लेकर सरकार धर्मसंकट में है । 

 

ये भी पढ़ें- डॉक्टर की शान पड़ी एक जान पर भारी, शौक से छोड़ते हैं पेट में सुई !

 जर्मनी भेजने का प्रस्ताव भी आया था लेकिन जर्मन नागरिकों ने इसका विरोध कर दिया। इसलिए मामला अटक गया। इस तरह के केमिकल को 2 हज़ार डिग्री से अधिक तापमान पर जलाया जाता है। पूरे मामले पर गैस राहत मंत्री विश्वास सारंग का कहना है की ये मामला बेहद पेचीदा और संवेदनशील है।

ये भी पढ़ें- असर, कैमरे में क़ैद मनचलों पर कार्रवाई

सरकार की केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से चर्चा चल रही है और इस बारे निर्णय केंद्र को ही करना है। विश्वास सारंग का कहना है की प्रदेश सरकार के पास जहरीला कचरा निपटाने की तकनीक और विशेषज्ञ नहीं हैं।

 

वेब डेस्क, IBC24

 

Trending News

Related News