News

हिंदुस्तान ज़िंदाबाद लिखने वाला पाकिस्तानी युवक देशद्रोह में जेल गया

Last Modified - December 5, 2017, 4:27 pm

वेब डेस्क। फिल्म गदर में एक सीन है, जिसमें पाकिस्तान से अपनी पत्नी अमीषा पटेल को वापस लाने गए सनी देओल से कहा जाता है कि वो पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे लगाए। सनी देओल ये नारा लगाते हैं। इसके बाद उनसे कहा जाता है कि वो हिंदुस्तान मुर्दाबाद का नारा लगाएं। सनी देओल ये नारा लगाने से इनकार कर देते हैं और कहते हैं कि हिंदुस्तान ज़िंदाबाद था, ज़िंदाबाद है और ज़िंदाबाद रहेगा। कहने का मतलब ये है कि अपना ही नहीं, पड़ोसी मुल्क भी ज़िंदाबाद है तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ना चाहिए, लेकिन पाकिस्तान के एक युवक को हिंदुस्तान ज़िंदाबाद लिखना भारी पड़ गया और उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। क्या है ये पूरा माजरा ये हम आपको बताते हैं।

ये भी पढ़ें- शशि कपूर का निधन, शशि थरूर को श्रद्धांजलि ! भूल से आया विचित्र भूचाल

पाकिस्तान के हरीपुर इलाके के नारा अजामाई इलाके में साजिद शाह नाम के एक युवक ने अपने घर की दीवार पर हिंदुस्तान ज़िंदाबाद लिख रखा था। इस नारे को देखकर स्थानीय लोगों ने नाराजगी जताई और साजिद से कहा कि वो इसे मिटा दे। स्थानीय लोगों का कहना था कि इस नारे से पाकिस्तान की राष्ट्रीय भावना आहत हो रही है। इसके बाद कुछ लोगों ने दीवार पर लिखे इस नारे की तस्वीरें मोबाइल में कैद कर इसे पुलिस के आला अफसरों को भेज दिया। इसके बाद पुलिस ने युवक को धारा 505 के तहत मामला दर्ज कर देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। इस खबर को पाकिस्तान के तमाम प्रमुख अखबारों ने प्रमुखता से छापी है।

 

ये भी पढ़ें- योगी आदित्यनाथ ने नरेंद्र मोदी को तूफान आपदा के लिए दिए 5 करोड़

इस ख़बर के बारे में रिपोर्ट करते हुए एक पाकिस्तानी पत्रकार ने लिखा है कि एक दौर था, जब राष्ट्रकवि अल्लामा इक़बाल ने सारे जहां से अच्छा हिंदोस्तां हमारा लिखा था, लेकिन साजिद शाह ने हिंदुस्तान ज़िंदाबाद लिखने के लिए शायद गलत वक्त का चुनाव कर लिया और राष्ट्रद्रोह के मामले में जेल पहुंचा दिया गया।

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News